जन सूचना अधिकार अधिनियम – RTI क्या हैं?

किसी भी प्रदेश मे बेहतर साशन व प्रसाशन को बनाए रखने के लिए समान अधिकार प्रदान किए जाते हैं। जिसके चलते कोई भी व्यक्ति अपने अधिकारों को जन सके, हर एक प्रकार से पारदर्शिता बनी रहे। ऐसे एक अधिकार के बारे मे आज की इस पोस्ट के माध्यम से चर्चा करेंगे।

जी हाँ किसी भी विभाग की पूर्णरूप से जानकारी रखना व उसके बारे मे अवगत होने हर एक नागरिक का कर्तव्य हैं। जिसके लिए जन सूचना अधिकार अधिनियम बनाया गया हैं। आज की इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको आरटीआई के बारे मे विस्तार से जानकारी देंगे। तो बिना देरी किए शरू करते हैं, आज की इस पोस्ट को जिसमे आप जानेंगे की एक आरटीआई की मदद से कोई भी नागरिक क्या क्या लाभ का फायदा ले सकते हैं। 

जन सूचना अधिकार अधिनियम - RTI क्या हैं?

जन सूचना अधिकार क्या हैं?

सूचना का अधिकार अधिनियम, जिसे केवल आरटीआई के रूप में जाना जाता है, एक क्रांतिकारी अधिनियम है जिसका उद्देश्य भारत में सरकारी संस्थानों में पारदर्शिता को बढ़ावा देना है। भ्रष्टाचार विरोधी व जो लोग देश के हिट मे उन्नति का मार्ग चाहते थे। उनके नेत्रत्व मे इस कानून को पारित किया गया। 

इसे क्रांतिकारी पहल के रूप मे जाना जाता है क्योंकि यह सरकारी संगठनों को जांच के लिए खोलता है। आरटीआई की जानकारी से लैस एक आम आदमी किसी भी सरकारी एजेंसी से सूचना देने की मांग कर सकता है। संगठन सूचना देने के लिए बाध्य है, वह भी 30 दिनों के भीतर, ऐसा नहीं करने पर संबंधित अधिकारी पर आर्थिक जुर्माना लगाया जाता है। इसके अलावा इस राइट का प्रयोग कोई भी आम नागरिक कर सकता है, जिसके लिए अन्य किसी कठिन प्रयाश की जरूरत नहीं रहती। अनलाइन पोर्टल के माध्यम से भी इसके लिए आवेदन किया जा सकता है। 

आज के समय मे एक जहाँ सरकार द्वारा हजारों योजनाओ को लागू किया जाता है। लेकिन कुछ करप्ट लॉगों की वजह से ऐसी योजनाओ का लाभ लॉगों तक सीधा मुहाया नहीं होता। ऐसे मे सूचना का अधिकार नियम के अंतर्गत किसी भी डिपार्ट्मन्ट से जानकारी ली जा सकती है। सूचना का अधिकार आमतौर पर लोकतंत्र के पर्याय के रूप में प्रयोग किया जाता है। यह नागरिकों की संप्रभुता को मजबूत करने का एक उपकरण है। 

स्वीडन दुनिया का पहला आरटीआई कानून 1766 में लागू करने वाला पहला देश है। यह भी मानवाधिकारों के मुख्य घटकों में से एक है। विकसित देश, विशेष रूप से यूरोपीय देश सबसे पहले आरटीआई के समर्थक थे। जबकि एशियाई देशों ने भी आरटीआई कानूनों का अच्छी तरह से पालन किया है, लैटिन अमेरिकी देश इसके कार्यान्वयन में काफी आगे हैं। 2005 में पारित सूचना का अधिकार अधिनियम जम्मू और कश्मीर राज्य को छोड़कर भारत के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों तक फैला हुआ है।

यह अधिनियम भारतीय नागरिकों को सरकार द्वारा पर्याप्त रूप से वित्त पोषित गैर-सरकारी संगठनों सहित किसी भी सार्वजनिक प्राधिकरण या संस्था के बारे में जानकारी प्राप्त करने का अधिकार देता है। आरटीआई अधिनियम का मुख्य उद्देश्य भारत के नागरिकों को जानकारी को स्पष्टता प्रदान करना, भ्रष्टाचार को रोकना और प्रत्येक सार्वजनिक प्राधिकरण के कामकाज में जवाबदेही को बढ़ावा देना है। सूचना का अधिकार अधिनियम का मूल उद्देश्य नागरिकों को सशक्त बनाना, सरकार के कामकाज में पारदर्शिता और जवाबदेही को बढ़ावा देना, भ्रष्टाचार को रोकना और हमारे लोकतंत्र को वास्तविक अर्थों में लोगों के लिए काम करना है। यह बिना कहे चला जाता है

सूचना अधिकार कब लागू हुआ?

2005 में पारित सूचना का अधिकार अधिनियम जम्मू और कश्मीर राज्य को छोड़कर भारत के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों तक फैला हुआ है। यह अधिनियम भारतीय नागरिकों को सरकार द्वारा पर्याप्त रूप से वित्त पोषित गैर-सरकारी संगठनों सहित किसी भी सार्वजनिक प्राधिकरण या संस्था के बारे में जानकारी प्राप्त करने का अधिकार देता है। आरटीआई अधिनियम का मुख्य उद्देश्य भारत के नागरिकों को जानकारी को स्पष्टता प्रदान करना, भ्रष्टाचार को रोकना और प्रत्येक सार्वजनिक प्राधिकरण के कामकाज में जवाबदेही को बढ़ावा देना है।

सूचना का अधिकार अधिनियम का मूल उद्देश्य नागरिकों को सशक्त बनाना, सरकार के कामकाज में पारदर्शिता और जवाबदेही को बढ़ावा देना, भ्रष्टाचार को रोकना और हमारे लोकतंत्र को वास्तविक रूप मे लॉगों को एक प्रकार की आजादी प्रदान करता हैं।

हमारे देश में भ्रष्टाचार तेजी से बढ़ रहा था। लोगों को इस बात की जानकारी नहीं थी कि किस तरह से सरकारी धन का उपयोग किया जा रहा है। इस प्रकार, केंद्र या राज्य सरकार से सूचना का अधिकार पारित करना आवश्यक समझा। यह अधिनियम उन कॉर्पोरेट संगठनों पर भी लागू होता है जिनमें कर्मचारियों को उनसे संबंधित जानकारी जानने का अधिकार होता है। आशा करते है, आज की इस पोस्ट के माध्यम से आपको जन सूचना अधिकार अधिनियम के विषय मे विस्तार से जानकारी प्राप्त हुई होगी।

2 COMMENTS

Comments are closed.

Popular Post

PUBG mobile lite hack download

PUBG mobile lite hack download की पूरी Step-by-Step जानकारी

1
अगर आप इस लेख पर आए है तो हम उम्मीद करते हैं कि आप अब जी के बहुत बड़े फैन होंगे अगर आप चाहते...

Y2Mate YouTube Video Downloader- Download Audio, Video In HD Quality.

0
Y2Mate YouTube Video Downloader: आज के इस डिजिटल युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स का प्रयोग अधिक प्रचलन में देखा जा रहा हैं,...

My Tools Town- Increase Like & Subscribers.

1
आज के समय मे जिस प्रकार से सोशल मीडिया ऐप्लकैशन पर लाइक व फॉलोवर्स का ट्रेंड बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हैं, उसे...
kalyan chart

kalyan chart – कल्याण चार्ट की पूरी जानकारी

0
क्या आप बिल्कुल कम समय में अमीर बनना चाहते हैं? अगर हां तो आप इस वक्त बिलकुल सही जगह पर है। हम यह नहीं...

LNT फुल फॉर्म इन हिंदी LNT full form in hindi?

0
LNT भारत की बहुत पुरानी और एक बहुत बड़ी कंस्ट्रक्शन इंजीनियरिंग के कार्य करने वाली कंपनी है इस कंपनी के द्वारा बहुत बड़े लेवल...