माउस क्या है और कितने प्रकार के होते हैं?

दोस्तों ज्यादातर लोग कंप्यूटर का उपयोग करते हैं परन्तु क्या आपको पता है कि माउस क्या है? और यह कितने प्रकार का होता है अगर आप कंप्यूटर का उपयोग करते होंगे तो आप ने आवश्यक माउस का उपयोग तो किया होगा परन्तु क्या आप जानते हैं कि माउस को हिंदी में क्या कहा जाता है।

और यह माउस कैसे काम करता है? दूसरे सभी डिवाइस जैसे कि मॉनिटर, कीबोर्ड, के होते हुए भी माउस का अपना अलग दर्ज है या एक प्रकार से सभी चीजों को स्क्रीन पर कंट्रोल करता है तो इसे खरीदने से पहले क्यों ना इसके अलग अलग प्रकार के बारे में जान ले यह या तो हमने बता ही दिया है कि हम चारों ओर से टेक्नोलॉजी से घिरे हुए है।

हम अपने दैनिक जीवन में कर रहे हैं सभी काम किसी न किसी रूप में टेक्नोलॉजी से जुड़ी हुई है यह टेक्नोलॉजी हमारे काम को सरल ही नहीं बल्कि जल्दी कर देती है ताकि हमारे ज़्यादा वक्त को बचाव सके क्या आपको पता है कि कंप्यूटर को ऑपरेट करने के लिए सबसे जरूरत वाली चीज़ क्या है? यदि आप अपने माउस के विषय में सोचा है।

Also Read: सीपीयू के कितने भाग होते हैं? CPU part in Hindi?

तब आपने सही अनुमान लगाया है क्योंकि कंप्यूटर स्क्रीन में हो रहे सभी गतिविधियों को मौत के माध्यम से ही कंट्रोल किया जाता है वही यह जानना भी काफी आवश्यक है कि माउस के प्रकार कितने होते हैं देखा जाए तो माउस बहुत से तरह के आते हैं।

और उन्हें हमारी आवश्यकतानुसार के तरीके से उपयोग किया जाता है तो आज हम इस पोस्ट में माउस के प्रकार के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे तो चलिए जानते हैं माउस कितने प्रकार के होते हैं?

माउस क्या है और कितने प्रकार के होते हैं?

माउस का फुल फॉर्म क्या है?

माउस का फुल फॉर्म Manually operated utility for selecting Equipment” होता है इसका हिंदी में पूरा नाम उपकरण के चयन के लिए मैनुअल रूप से संचालित उपयोगिता होता है।

माउस क्या होता है?

माउस एक तरह का इनपुट डिवाइस होता है यह एक पॉइंटिंग डिवाइस होता है इसका उपयोग पीसी के साथ इंटरैक्ट करने के लिए किया जाता है माउस का उपयोग मुख्य रूप से कंप्यूटर स्क्रीन पर डिफरेंट Items को सलेक्ट उनके बारे में जानने तथा उन्हें खोलने एवं बंद करने में किया जाता है

माउस के उपयोग के माध्यम से उपयोगकर्ता कंप्यूटर को कोई काम करने के लिए निर्देश देता है इसके माध्यम से एक यूजर कंप्यूटर स्क्रीन पर कहीं भी पहुँच सकता है उसके अलग अलग मॉडल होते हैं जिनमें कि अलग अलग फीचर्स और कनेक्टिविटी होते हैं परंतु ज्यादातर सभी मॉडल्स में दो बटन और एक scroll wheel होता है।

Also Read: Full form of Am and PM पीएम और एम कब होता है?

माउस के प्रकार

  1. Mechanical mouse = सबसे पहले जिंस माउस का उपयोग किया जाता था वह मैकेनिकल माउस से होते थे साल 1972 में बिल इंग्लिश के माध्यम से माउस का आविष्कार किया गया था मैकेनिकल माउस को बॉल माउस के नाम से भी जाना जाता है ताकि इसमें  इंटरैक्शन के लिए बॉल का उपयोग किया जाता था माउस को हिलाने पर उसमें लगा यह बॉल भी मूव होता था जिसकी वजह से माउस के माध्यम से कंप्यूटर का कोर्स मूव होता था और दूसरे इंस्टीट्यूशन दिए जाते थे मैकेनिकल माउस मतलब की बॉल माउस का उपयोग पहले के वक्त में ज्यादा किया जाता था आज के वक्त में ज्यादा एडवांस और अच्छे माउस मार्केट में आ रहे हैं।
  2. Optical Mouse = एक मैकेनिकल माउस में जिस तरह बॉल का उपयोग होता है Optical Mouse होगा एक ऑपरेटिंग कलमा उसमें इलेक्ट्रॉनिक्स का उपयोग किया जाता है जिससे माउस का position ओर movement ट्रैक किया जाता है आज के समय में ऑप्टिकल माउस की हो स्टेट मैकेनिकल माउस का दर्जा प्राप्त है आज के समय में अधिक इसी तरह का माउस उपयोग हो रहा है यह दूसरों की तुलना में अधिक बेहतरीन होता है।
  3. Stylus Mouse = जिस तरह से महंगे और Flagship स्मार्टफोन ने आपको एक स्टाइल दिया है उसी तरह स्टाइलिश के आकार का माउस भी होता है वास्तव में यह एक माउस ना होकर किसी पेन की तरह एक स्टाइलस पेन होता है एक नॉर्मल माउस में जितनी भी जरूरी बटन होते हैं वो सब भी इसमें पाए जाते हैं।
  4.  Wired Mouse = नाम से ही इस मास को समझ जाते हैं कि इन्हें कंप्यूटर के साथ डायरेक्टली एक्वायर के माध्यम से कनेक्ट किया जाता है इन्हे Corded Mouse भी कहते हैं यूएसबी क्लेवर इत्यादि से यह कंप्यूटर से कनेक्ट होते हैं या उस बायरस से ही पावर लेते हैं इसलिए इसमें बैटरी आदि की जरूरत नहीं होती है क्योंकि यह बाय के माध्यम से कनेक्ट होते हैं इसलिए यह ज्यादा accurate भी होते हैं बायरस सही रहने पर इनमें कनेक्शन आदि की कोई दिक्कत नहीं आती है।
  5. Wireless Mouse = इसमें भी नाम से पता लग जाता है कि जिस्म उसमें बायर का उपयोग नहीं किया जाता है वह वायरलेस माउस होता है इस माउस के साथ कोई भी cable attach नहीं होती है इसमें डाटा ट्रांसफर और कंप्यूटर से कनेक्ट होने के लिए वायरलैस टेक्नोलॉजी का उपयोग किया जाता है इसमें बिना बायर के साथ सिर्फ एक माउस होता है और साथ में एक receiver दिया जाता है जिससे आप को कंप्यूटर में ऐसे लगाना होता है इसमें वायर आदि की कोई समस्या नहीं होती है क्योंकि इससे बाहर नहीं होते हैं इसलिए यह कंप्यूटर से पावर नहीं ले सकते हैं जिसके लिए इसमें खुद की बैटरी होती है जिससे यह थोड़ा भारी भी होते है एवं साथ ही इन्हें चार्ज करने की आवश्यकता होती है।

निष्कर्ष = आज के इस पोस्ट में हमने आपको बताया है कि माउस क्या होता है और इसके कितने प्रकार होते हैं तथा माउस की फुल फॉर्म क्या है? उम्मीद है यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करें।

Popular Post

PUBG mobile lite hack download

PUBG mobile lite hack download की पूरी Step-by-Step जानकारी

1
अगर आप इस लेख पर आए है तो हम उम्मीद करते हैं कि आप अब जी के बहुत बड़े फैन होंगे अगर आप चाहते...

Y2Mate YouTube Video Downloader- Download Audio, Video In HD Quality.

0
Y2Mate YouTube Video Downloader: आज के इस डिजिटल युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स का प्रयोग अधिक प्रचलन में देखा जा रहा हैं,...

My Tools Town- Increase Like & Subscribers.

1
आज के समय मे जिस प्रकार से सोशल मीडिया ऐप्लकैशन पर लाइक व फॉलोवर्स का ट्रेंड बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हैं, उसे...

जन सूचना अधिकार अधिनियम – RTI क्या हैं?

2
किसी भी प्रदेश मे बेहतर साशन व प्रसाशन को बनाए रखने के लिए समान अधिकार प्रदान किए जाते हैं। जिसके चलते कोई भी व्यक्ति...
kalyan chart

kalyan chart – कल्याण चार्ट की पूरी जानकारी

0
क्या आप बिल्कुल कम समय में अमीर बनना चाहते हैं? अगर हां तो आप इस वक्त बिलकुल सही जगह पर है। हम यह नहीं...