10 line on republic day गणतंत्र दिवस पर 10 लाइन

गणतंत्र दिवस अर्थात रिपब्लिक डे का दिन हमारे भारत के इतिहास में बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है। क्या आप जानते हैं यह क्यों इतना महत्वपूर्ण माना जाता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि 26 जनवरी सन 1950 को हमारे भारत का संविधान लागू हुआ था इसीलिए हर साल 26 जनवरी के दिन को गणतंत्र दिवस के रूप में पूरे भारतवर्ष में मनाया जाता है।

गणतंत्र दिवस के दिन को भारतीय अधिनियम एक्ट को हटाकर भारतीय संविधान के रूप में लागू किया गया था व भारत में लोकतांत्रिक प्रणाली को हमारे संविधान के साथ में जोड़ दिया गया था। आज हम आपको गणतंत्र दिवस का इतिहास क्या है, गणतंत्र दिवस क्यों मनाया जाता है, किस तरीके से मनाते हैं, गणतंत्र दिवस के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारियों का विवरण इस निबंध में बताने जा रहे है..

10 line on republic day गणतंत्र दिवस पर 10 लाइन

गणतंत्र दिवस की शुरुआत का इतिहास

गणतंत्र दिवस की शुरुआत की है अगर आप बात करें तो भारत को जब अंग्रेजों से आजादी मिली थी तब 9 दिसंबर सन 1947 को ही संविधान सभा बनाने की शुरुआत कर दी गई थी। इसको बनाने में 2 वर्ष 11 महीने और 18 दिन लग गए थे। भारतीय कांग्रेस सरकार के द्वारा भारत को पूर्ण स्वराज्य भी इसी दिन घोषित किया गया था, इसीलिए 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है।भारतीय संविधान के निर्माण में 22 समितियों का चुनाव किया गया था। जिन का कार्य संविधान का निर्माण करना और संविधान बनाना था।

संविधान सभा के द्वारा संविधान निर्माण के लिए 114 दिन की बैठक शुरू की गई थी। जिसमें 308 सदस्यों ने भाग लिया था। हमारे भारत के संविधान को डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के द्वारा 2 साल 11 महीने 18 दिन फाइनल ड्राफ्ट बनाकर तैयार किया गया था। उसके बाद 26 जनवरी सन 1950 को यह संविधान पूरे देश के लिए लागू कर दिया गया था, इसीलिए 26 जनवरी के दिन को गणतंत्र दिवस के रूप में तभी से ही मनाया जाने लग गया था।

भारत को पूर्ण स्वराज की घोषणा

भारत में जब लाहौर अधिवेशन में इस प्रस्ताव की घोषणा की गई थी कि अंग्रेज सरकार के द्वारा 26 जनवरी 1930 तक भारत को डोमिनियम का दर्जा नहीं दिया गया है, तो भारत को पूर्ण रूप से स्वतंत्र घोषित कर दिया जाएगा। इस बात पर जब ब्रिटिश सरकार का कोई निर्णय नहीं आया। तब ब्रिटिश सरकार के द्वारा 26 जनवरी 1930 को भारत को पूर्ण स्वराज्य घोषित कर दिया गया था। यह अधिवेशन पंडित जवाहरलाल नेहरू की अध्यक्षता में सन 1929 को हुआ था। Also Read: Ayushman Bharat Yojana लिस्ट में अपना नाम कैसे देखें

राष्ट्रीय उत्सव के रूप में

भारत में गणतंत्र दिवस के दिन पूरे भारतवर्ष में राष्ट्रीय उत्सव के रूप में सभी सरकारी दफ्तरों विद्यालयों और सभी लोग मिलकर इस खास दिन को अपने अपने तरीके से मनाते हैं। वैसे गणतंत्र दिवस को राष्ट्रीय अवकाश के रूप में भी मनाया जाता है। गणतंत्र दिवस के दिन भारत सरकार के द्वारा दिल्ली में राजपथ पर अनेकों रंगारंग कार्यक्रम होता है और झंडारोहण राष्ट्रपति के द्वारा किया जाता है और भारतीय सेना जल थल वायु तीनों सेनाओं का परेड व सलामी होती है। गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति के द्वारा देश को संबोधित भी किया जाता है।

गणतंत्र दिवस पर 10 लाइन

1.गणतंत्र दिवस को पूरे भारतवर्ष में राष्ट्रीय पर्व के रूप में मनाया जाता है।

2.गणतंत्र दिवस के दिन भारत का संविधान पूरे तरीके से बनकर तैयार हुआ था और उसको लागू कर दिया गया था।

3. गणतंत्र दिवस पर लाल किले पर राष्ट्रपति के द्वारा ध्वजारोहण किया जाता है। इसके अलावा भारतीय सशस्त्र सेना की परेड की सलामी भी ली जाती है।

4. भारत में संविधान 26 जनवरी सन 1950 को पूरी तरह से लागू कर दिया गया था।

5. गणतंत्र दिवस का सही अर्थ जनता का शासन,जनता के लिए होता है।

6. गणतंत्र दिवस के दिन सभी सरकारी दफ्तरों ऑफिस विद्यालय इन सभी जगहों पर ध्वजारोहण किया जाता है।

7. गणतंत्र दिवस का त्योहार सभी देशवासियों के लिए बहुत बडे पर्व के रूप में होता है।

8. गणतंत्र दिवस एक तरह से लोकतंत्र के होने का एहसास दिलाता है

 9. इस बार 26 जनवरी 2022 को भारत का 73 वां गणतंत्र दिवस मनाया जाएगा।

10. गणतंत्र दिवस पर राजपथ पर हो रहे समारोह में हमारे देश की हर राज्यों की संस्कृति के कुछ झांकियां दिखाई जाती है।

गणतंत्र दिवस का महत्व

आज हमारे देश में सभी भारतवासी गणतंत्र दिवस के महत्व को भुलाने से भी नहीं भूल सकते हैं क्योंकि भारत का संविधान पूर्ण रूप से बन के सभी भारत वासियों के लिए 26 जनवरी सन 1950 को लागू कर दिया गया था। गणतंत्र दिवस को हमारे देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी रहने वाले सभी भारतीयों के द्वारा मनाया जाता है। पूरे देश में इसको बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। गणतंत्र दिवस के दिन पूरे भारतवर्ष में एक अलग ही देश भक्ति की लहर सी दौड़ में लग जाती है।

गणतंत्र दिवस के कुछ रोचक तथ्य

1.गणतंत्र दिवस को पूरे भारत को 26 जनवरी 1930 को पूर्ण स्वराज्य के रूप में घोषित कर दिया गया था। इसके अंतर्गत ब्रिटिश सरकार से भारत को पूर्ण आजादी दिलाने के लिए शपथ दिलाई गई थी।

2.गणतंत्र दिवस की जब परेड की जाती है उस समय एक क्रिश्चियन बनी बनाई जाती है उस ध्वनि का नाम “अवॉइड विथ मी” है। इस ध्वनि को बजाने का मुख्य उद्देश्य यह है क्योंकि महात्मा गांधी को यह ध्वनि सबसे ज्यादा पसन्द थी।

3.भारत में पहली बार गणतंत्र दिवस समारोह पर मुख्य अतिथि के रुप में इंडोनेशिया के राष्ट्रपति सुकरणों आये थे।

4.गणतंत्र दिवस का समारोह राजपथ में पहली बार 1955 में आयोजित किया था।

5.गणतंत्र दिवस के दौरान भारत के राष्ट्रपति को एकत्रित तोपों की सलामी भी दी जाती है।

 निष्कर्ष

आज हमने आपको गणतंत्र दिवस पर निबंध के बारे में बताया है, इसके अलावा कुछ महत्वपूर्ण तथ्यों के बारे में भी आपको जानकारी दी है। हमे उम्मीद है कि आपको जो हमने जानकारी दी है वह पसंद आई होगी। अगर यह पोस्ट पसंद आई तो कमेंट करके जरूर बता सकते हैं।

Jio Phone Me Play Store Kaise Chalaye? – HindiKalam

1
Jio Phone Me Play Store Kaise Chalaye? : हेलो दोस्तो आप सभी आर्टिकल का टाइटल पढ़कर समझ गए होंगे की, आज के आर्टिकल में...

Paypal Account Kaise Banaye? in 2021 – HindiKalam

3
Paypal Account Kaise Banaye? in 2021 : हेलो दोस्तो कैसे है आप सभी हम उम्मीद करते है की आप सभी ठीक होंगे। आज हम...

लव का फुल फॉर्म क्या होता है? Love ka full form kya hota hai?

1
हेलो दोस्तों क्या आप जानते हैं लव का फुल फॉर्म क्या होता है। लव प्यार,दोस्ती, भावना को कहा जाता है। प्यार एक ऐसा  ऐसा...

Free fire का बाप कौन है? Free Fire ka baap kaun hai 2021?

1
Free Fire ka Baap kaun hai? वैसे तो हर गेम अपने आप में महान होता है लेकिन लोगो को कुछ अच्छा देखने के लिए...

वर्क शीट क्या होती है What is a Worksheet?

2
आज के तकनीकी विज्ञान से भरे युग में सभी कार्य कंप्यूटर पर किए जाते हैं.। ऐसे में बहुत ही ऐसी कंप्यूटर एप्लीकेशंस होती है...
error: Content is protected !!