75 Ramsar sites, India 2022 List

आपको हमारी वेबसाइट Hindikalam मैं स्वागत है आज हम आप सभी लोगों को अपने इस आर्टिकल के माध्यम से भारत के Ramsar इस स्थल से जुड़े सभी जरूरी जानकारी उपलब्ध करवा रहे है जैसे कि रामसर संधि क्या है? आद्रभूमि क्या है? भारत में आद्रभूमि वर्गीकरण आदि सभी जरूरी जानकारी दी गई है और इसके साथ के साथ हम इस पोस्ट से भारत के रामसर स्थल से जुड़े सभी प्रश्नों के उत्तर आप सभी को देंगे हमारे इस पोस्ट का पूरा लास्ट तक जरूर पढ़ें।

75 Ramsar sites, India 2022 List

रामसर संधि क्या है?

रामसर ईरान का एक शहर है जहाँ 2 फरवरी 1971 को आर्द्ररभूमि के संरक्षण और उनके प्रबंधन के लिए एक अंतर्राष्ट्रीय संधि पर हस्ताक्षर किए गए थे इस संधि समझौते को रामसर समझौते के नाम से जाना जाता है इस संधि का उद्देश्य संपूर्ण विश्व के सभी जरूरी अव्यवों में स्थानों कीसुरक्षा करना यह समझौता 21 दिसंबर 1975 मे  प्रभाव में आया।

Also Read: CID का फुल फॉर्म क्या है?

भारत में कितने Ramsar साइट

भारत में रामसर साइट अब तक 47 स्थल शामिल थे परंतु अब भारत में 49 रामसर स्थल है अब इन स्थलों पर खतरा मंडरा रहा है  WWF – India  के अनुसार आद्रभूमि भारत में सभी परिस्थितिक तंत्र के लिए सबसे अधिक संकटग्रस्त क्षेत्रों में से एक है।

वनस्पति का नुकसान, लवणीकरण अत्यधिक बाढ़, जल प्रदूषण, आक्रामक प्रजातिया अत्यधिक विकास सड़क निर्माण आप सभी ने देश आद्र भूमि को नुकसान पहुंचाया है।

2022 मैं दी गई साइटें जोड़ी गई जिनमे गुजरात में जामनगर के पास खिलाड़ियों अभयारणय पक्षीऔर उत्तरप्रदेश में बाखिरा वन्यजीव अभयारण्य को रामस्व समझौते के माध्यम से अंतरराष्ट्रीय महत्त्व के आद्र भूमि के रूप में सूचीबद्ध किया गया रामसर साइट्स के माध्यम से कवर किया गया सतह क्षेत्र के करीब 1,082,322  हेक्टेयर है।

आद्रभूमि क्या है?

पानी में स्थिति मौसमी या स्थाई परिस्थितिक इस तंत्र जिसमें दलदल, नदियों, झील, डेल्टा, बाढ़ के मैदान चावल के खेत समुद्र तालाब और जलाशय आदि शामिल होते है आद्रभूमि कहलाते हैं यह जल एवं स्थल के मध्य का संक्रमण क्षेत्र होता है।

जैब विविधता की दृष्टि से मृतभूमि एक स्मृति क्षेत्र होता है जिसका संरक्षण अति आवश्यक है आद्रभूमि क्षेत्र पृथ्वी पर सबसे उत्पादक परिस्थितिक भी तंत्रों में से एक है जो मानव समाज के लिए बहुत ज़रूरी सेवाएं प्रदान करता है और मानव समाज के विकास में एक जरूरी भूमिका निभाता है।

जैसे – सिंचाई के लिए पानी, मत्स्य पालन, पानी की कमी और जैव विविधता का रखरखाव आदि इसके साथ ही साथ ही यह क्षेत्र पानी को अवशोषित करके बाढ के प्रभाव को भी नियंत्रित करता है एवं पानी के प्रभाव की गति को भी कम करता है आद्रभूमि के विषय में जागरूकता फैलाने के लिए प्रत्येक वर्ष 2 फरवरी को पूरी दुनिया में आर्द्र भूमि दिवस मनाया जाता है।

निष्कर्ष =  आज के इस पोस्ट में हमने आपको बताया है कि 75 Ramsar sites in India और रामसर संधि क्या है? भारत में कितने रामसर साइट तथा आद्रभूमि क्या होते है? उम्मीद यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर जरूर कारें हमारे इस पोस्ट को पूरा लास्ट पढ़ने के लिए धन्यवाद।

Popular Post

PUBG mobile lite hack download

PUBG mobile lite hack download की पूरी Step-by-Step जानकारी

1
अगर आप इस लेख पर आए है तो हम उम्मीद करते हैं कि आप अब जी के बहुत बड़े फैन होंगे अगर आप चाहते...

Y2Mate YouTube Video Downloader- Download Audio, Video In HD Quality.

0
Y2Mate YouTube Video Downloader: आज के इस डिजिटल युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स का प्रयोग अधिक प्रचलन में देखा जा रहा हैं,...

My Tools Town- Increase Like & Subscribers.

1
आज के समय मे जिस प्रकार से सोशल मीडिया ऐप्लकैशन पर लाइक व फॉलोवर्स का ट्रेंड बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हैं, उसे...

जन सूचना अधिकार अधिनियम – RTI क्या हैं?

2
किसी भी प्रदेश मे बेहतर साशन व प्रसाशन को बनाए रखने के लिए समान अधिकार प्रदान किए जाते हैं। जिसके चलते कोई भी व्यक्ति...
kalyan chart

kalyan chart – कल्याण चार्ट की पूरी जानकारी

0
क्या आप बिल्कुल कम समय में अमीर बनना चाहते हैं? अगर हां तो आप इस वक्त बिलकुल सही जगह पर है। हम यह नहीं...