Backlink क्या है? Quality Backlink कैसे बनाये?

अगर आप वेबसाइट / ब्लॉक के ऑनर है या बनना चाहते हैं तो आपको बैकलिंक के विषय में थोड़ी सी जानकारी जान लेना बहुत ही आवश्यक है एक वेबसाइट की रैंक करवाने में backlink का सबसे बड़ा योगदान है।इसके बिना आज किसी वेब साइट को रैंक कराना काफी मुश्किल का काम होता है यदि आप बैकलिंक को विषय में नहीं जानते तो हमारे  इस पोस्ट से आप Backlink क्या है? और Backlink कैसे बनाए ? के विषय में सभी चीजों का पता चल जायेगा।

हमारे आज के इस पोस्ट को आप लास्ट तक पढ़ लेंगे तो आपको आपको ब्लॉग को रैंक करने में किसी भी प्रकार की दिक्कत परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा।

Backlink क्या है? Quality Backlink  कैसे बनाये?

Backlink एक ऐसा लिंक जूस है जो कि दूसरे किसी वेब साइट से आपकी वेब साइट तक आने का रास्ता बनाता है आसान भाषा में कहा जाए तो जब कोई वेब साइट ऑनर अपने वेब पेज में आपके Web page  का लिंक ऐड करता है तो इसी को backlink कहा जाता है।

बैकलिंक के महत्वपूर्ण टर्म्स

  • Link Juice= जब हमारे वेबसाइट को कोई अपने वेबसाइट से लिंक करता है तो इसे हम सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन एसईओ की भाषा में उसे लिंक जूस कहा जाता है। Link juice से हमारे ब्लॉग की अथॉरिटी बढ़ती है और हमारे ब्लॉग को सर्च इंजन में रैंक होने से अधिक सहायता करता है।
  • Do–Follow Link = जब कोई हमारे वेबसाइट के किसी भी यूआरएल को बिना no- follow attribute के लिंक करता है तो उसे Do- follow बैंकलिंक कहा जाता है Do- follow लिंक इस तरह का होता है <a href=” your website url ” > Link Text</a>
  • No-follow link = जब कोई हमारे किसी वेब पेज के url को अपने website से No- Follow attribute के साथ लिंक करता है तो उसे No-follow Backlink कहा जाता है No- follow बैकलिंक का स्ट्रक्चर कुछ इस तरह होता है. < a href = “your website url” Rel=”no follow”> Link text </a>

Also Read: मेरा IP address क्या है? कैसे काम करता है? और क्यों जरूरी है?

किसी भी सर्च इंजन algorithm, SEO  मे backlinks काफी बड़ा रोल प्ले करती है backlinks को जानना और यह कैसे काम करती है जानना काफी सरल होता है। जैसे कोई Raj नाम का एक नया ब्लॉगर है तथा उसने स्पोर्ट्स के ऊपर एक इट्रेसीटिंग आर्टिकल उसमें वेबसाइट पर लिखा है दूसरी ओर मान लो Rahul नाम का एक और ब्लॉगर है जिसका ब्लॉग काफी पुराना है और सर्च इंजन में अच्छी तरह से रैंक है। और उसकी अथॉरिटी भी सर्च इंजन में राज़ के ब्लॉग से अधिक है ऐसे में राहुल अपने ब्लॉग पर आर्टिकल लिखते वक्त किसी कीवर्ड पर raj के आर्टिकल को लिंक कर पाता है।

तो वह लिंक बैंकिंग मान ली जाती है Raj की आर्टिकल को जो बैंकिंग मिली है वह एक हाई अथॉरिटी ब्लॉग से मिली है इसलिए राज़ का ब्लॉग सर्च इंजन में रैंक करने लगेगा और गूगल भी उसी टॉप में रैंक करने का प्रयास करेगा ताकि वह एक हाई अथॉरिटी ब्लॉग से linked है। इस प्रकार से जितनी अधिक हाई अथॉरिटी वाली वेबसाइट से आपको ब्लैक लिंक मिलेंगे उतनी अधिक आप के वेबसाइट की भी अथॉरिटी बढ़ेगी जितनी अधिक आपकी वेबसाइट की backlink मिलेंगे उतनी आपकी वेबसाइट की एसईओ स्ट्रांग होती जाएगी और सर्च इंजन में हमेशा आपकी वेबसाइट टॉप में रहेंगी।

निष्कर्ष=  आज की इस पोस्ट में हमने आपको बैकलिंक क्या है? बैकलिंक कैसे काम करती है? के विषय में आपको सारी जानकारी दी है आपके मन में  backlinks से रिलेटेड कोई भी प्रश्न हैं तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके हमसे पूछ सकते हैं हम आपके सभी प्रश्नों के उत्तर देने की पूरी कोशीश करेंगे यह पोस्ट आपको पसंद आये हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

Popular Post

PUBG mobile lite hack download

PUBG mobile lite hack download की पूरी Step-by-Step जानकारी

1
अगर आप इस लेख पर आए है तो हम उम्मीद करते हैं कि आप अब जी के बहुत बड़े फैन होंगे अगर आप चाहते...

Y2Mate YouTube Video Downloader- Download Audio, Video In HD Quality.

0
आज के इस डिजिटल युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स का प्रयोग अधिक प्रचलन में देखा जा रहा हैं, ऐसे में विभिन्न विभिन्न...

My Tools Town- Increase Like & Subscribers.

1
आज के समय मे जिस प्रकार से सोशल मीडिया ऐप्लकैशन पर लाइक व फॉलोवर्स का ट्रेंड बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हैं, उसे...

जन सूचना अधिकार अधिनियम – RTI क्या हैं?

2
किसी भी प्रदेश मे बेहतर साशन व प्रसाशन को बनाए रखने के लिए समान अधिकार प्रदान किए जाते हैं। जिसके चलते कोई भी व्यक्ति...
kalyan chart

kalyan chart – कल्याण चार्ट की पूरी जानकारी

0
क्या आप बिल्कुल कम समय में अमीर बनना चाहते हैं? अगर हां तो आप इस वक्त बिलकुल सही जगह पर है। हम यह नहीं...