Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai- 2021 Ki Nyi Jankari.

अगर आप किसी प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं। या सामान्य ज्ञान की हर एक जानकारी हासिल करने की रुचि रखते हैं। तो यह आपके लिए निश्चित रूप से अनिवार्य हैं। कि सम्पूर्ण विश्व के साथ साथ भारत की हर एक जानकारी आपको ज्ञात हो। चाहे उसके जनगणना के अनुसार भारत की की कुल जनसंख्या का वर्णन हो। या फिर मानचित्र में दर्ज सभी राज्यो की संख्या। हमारे आस पास ऐसे काफी लोग होते हैं। जिन्हें सामान्य ज्ञान का पूर्ण रूप से आभास नही होता। उसमे चाहे फिर भारत की जनसंख्या का मुद्दा हो या बोले जानी वाली सभी भाषाएँ।

Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai- 2021 Ki Nyi Jankari.

आज की इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि भारत मे कुल कितनी जनसंख्या हैं। व कौनसे राज्य में सबसे अधिक जनसंख्या घनत्व हैं। जनसंख्या प्रत्येक देश की सीमा का वो महत्वूपर्ण बिंदु होता हैं। जो उस देश की सीमाओं को दर्शाता हैं। यही कारण हैं कि भारत जनसंख्या के हिसाब से विश्व का सबसे बड़ा दूसरा देश हैं। तो चलिए आगे की सटीक जानकारी के लिए बढ़ते हैं। इस पोस्ट की ओर जिसमे जनसंख्या से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी से आपको अवगत कराया जाएगा।

भारत की कुल जनसंख्या कितनी हैं?

जनसंख्या का आंकलन करने के लिए प्रत्येक 11 वर्ष बाद जनगणना की जाती हैं। जिसकी मदद से सम्पूर्ण आबादी का हिसाब लगाया जाता हैं। वर्लडोमिटर के अनुसार वर्तमान समय मे भारत की कुल आबादी लगभग 138 करोड़ के आसपास आंकी जा रही हैं। 

इसके अलावा चीन अभी भी जनसंख्या के स्तर पर पहले स्थान पर बना हुआ हैं। जनसंख्या स्तर को नियंत्रित करने के लिए भारत सरकार द्वारा अभी कोई कठोर कदम नही उठाया जा रहा हैं। जिसके चलते यह अब एक राजनीतिक मुद्दा बन गया हैं। सूत्रों के हिसाब से अनुमान लगाया जा रहा हैं, कि लगातार बढ़ते जनसंख्या के स्तर को देखते हुए आने वाले कुछ ही वर्षी में भारत चीन को पीछे छोड़ सकता हैं। United Nation Population Fund की नवीन रिपोर्ट के अनुसार भारत की जनसंख्या व्रद्धि दर में 1.2% की बढ़ोतरी देखी गयी हैं।

यह भी पढिए:  MPL App क्या है? MPL कैसे डाउनलोड करें?

भारत मे राज्यो के स्तर पर जनसंख्या का आंकलन किया जाता हैं जिसके चलते जनगणना सूची तैयार की जाती हैं। इसके अलावा भारत मे बढ़ती जनसंख्या को ध्यान में रखते हुए लम्बे समय से सियासत चल रही हैं। जनसंख्या कानून को लागू करने के लिए बहुत ही लम्बे समय विचार किया जा रहा हैं। परंतु अभी तक कोई निर्णायक फैसला नहीं लिया गया हैं। वही दूसरी ओर उत्तरप्रदेश सरकार के द्वारा हाल ही मे लिए एक फैसले पर जनसंख्या कानून बनाने को लेकर मोहर लगा दी गई हैं। 

भारत मे राज्यों के स्तर पर जनसख्या का कितना घनत्व हैं?

भारत मे सर्वाधिक आबादी वाला राज्य उत्तरप्रदेश हैं.जिसकी वर्तमान समय मे कुल आबादी 11,700,099 2021 मे होनी वाली जनगणना के अनुसार आँकी जा रही हैं। भारत की वर्तमान जनसंख्या का 50% से अधिक 25 वर्ष से कम और 65% से अधिक 35 वर्ष की आयु से कम है। लगभग 72.2% जनसंख्या लगभग 638,000 गांवों में और शेष 27.8% लगभग 5,480 कस्बों और शहरी समूहों में रहती है। जन्म दर (प्रति वर्ष प्रति 1,000 लोगों पर बच्चे का जन्म) 22.22 जन्म / 1,000 जनसंख्या (2009 अनुमान) है 

जबकि मृत्यु दर (प्रति 1000 व्यक्ति प्रति वर्ष मृत्यु) 6.4 मृत्यु / 1,000 जनसंख्या है। प्रजनन दर 2.72 बच्चे / महिला (एनएफएचएस -3, 2008) और शिशु मृत्यु दर 30.15 मृत्यु / 1,000 जीवित जन्म (2009 अनुमानित) है। भारत में दुनिया की सबसे बड़ी निरक्षर आबादी है। 2011 की जनगणना के अनुसार भारत की साक्षरता दर 74.04% है, जिसमें पुरुष साक्षरता दर 82.14% और महिला साक्षरता दर 65.46% है। केरल में सबसे अधिक साक्षरता दर 93.9%, लक्षद्वीप (92.3%) दूसरे स्थान पर और मिजोरम (91.6%) तीसरे स्थान पर है।

इसके अलावा विश्व के सबसे अधिक आबादी वाले देश कौन से है। जैसा की हमने अभी ऊपर वर्णन किया है, कि भारत जनसंख्या मे विश्व के दूसरे स्थान पर है। इसके अलावा अन्य देश भी सूची आते है। 

  1. चीन 
  2. इंडिया 
  3. यूनाइटेड स्टेट्स 
  4. इंडोनेशिया 
  5. पाकिस्तान 
  6. ब्राजील 
  7. नाइजीरिया 
  8. बांग्लादेश 
  9. रूस 
  10. मेक्सिको 

जनसंख्या का मुद्दा सबके लिए एक बहुत ही बड़ा मुद्दा बन चुका है, जिसको लेकर अलग अलग देश सुधार कर रहे है। वही इसको नियंत्रित करने के लिए चीन ने पहले ही कदम उठा लिया है। भारत जिस तरीके से जनसंख्या के हिसाब से आगे बढ़ रहा है, उसको ध्यान मे रखते हुए यह अनुमान लगाया जा रहा है। कि आने वाले कुछ दशको मे भारत जनसंख्या के स्थान पर विश्व का सबसे बड़ा देश होगा। 

आशा करते है, आज की इस पोस्ट के माध्यम से आपको भारत की जनसंख्या के विषय मे सम्पूर्ण जानकारी हासिल हुई होगी। ऐसी ही पोस्टों को पढ़ने के लिए दिए गए लिंक्स पर क्लिक कर जानकारी ले सकते है। 

1 COMMENT

  1. […] पीएचडी एक उच्च डिग्री का कोर्स होता है, जो भी इच्छुक अभ्यर्थी इस कोर्स को करता है। उसके नाम के आगे डॉक्टर लग जाता है, जो कि बहुत बड़े गर्व की बात होती है। पीएचडी का कोर्स करने के लिए व्यक्ति के पास में मास्टर डिग्री का होना अति आवश्यक होता है। पीएचडी किसी एक विषय के अंतर्गत की जाती है। उस विषय पर रिसर्च करना पीएचडी ही माना जाता है।उस विषय के बारे में संपूर्ण जानकारी पीएचडी ही होती है। विदेशों में तो पीएचडी की डिग्री को सबसे ऊंची डिग्री भी माना जाता है। अगर आप कैरियर के रूप में वर्तमान समय में किसी भी कॉलेज में प्रोफेसर या कोई शोधकर्ता के पद पर नौकरी के लिए आवेदन कर रहे हो तो उसके लिए पीएचडी की डिग्री होना अति आवश्यक है। पीएचडी वाला व्यक्ति रिसर्चर या फिर एनालिसिस भी बन सकता है। Also Read: Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai- 2021 Ki Nyi Jankari. […]

Comments are closed.

Popular Post

PUBG mobile lite hack download

PUBG mobile lite hack download की पूरी Step-by-Step जानकारी

1
अगर आप इस लेख पर आए है तो हम उम्मीद करते हैं कि आप अब जी के बहुत बड़े फैन होंगे अगर आप चाहते...

Y2Mate YouTube Video Downloader- Download Audio, Video In HD Quality.

0
आज के इस डिजिटल युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स का प्रयोग अधिक प्रचलन में देखा जा रहा हैं, ऐसे में विभिन्न विभिन्न...

My Tools Town- Increase Like & Subscribers.

1
आज के समय मे जिस प्रकार से सोशल मीडिया ऐप्लकैशन पर लाइक व फॉलोवर्स का ट्रेंड बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हैं, उसे...

जन सूचना अधिकार अधिनियम – RTI क्या हैं?

2
किसी भी प्रदेश मे बेहतर साशन व प्रसाशन को बनाए रखने के लिए समान अधिकार प्रदान किए जाते हैं। जिसके चलते कोई भी व्यक्ति...
kalyan chart

kalyan chart – कल्याण चार्ट की पूरी जानकारी

0
क्या आप बिल्कुल कम समय में अमीर बनना चाहते हैं? अगर हां तो आप इस वक्त बिलकुल सही जगह पर है। हम यह नहीं...