Credit card kaise bnate hai? क्रेडिट कार्ड कैसे बनाते हैं?

आज के समय में सभी लोग डिजिटल रूप से पैसे को उपयोग में लेते है। ऐसे में अक्सर अपने फोन में किसी भी तरह के काम के लिए अगर पैसे की ट्रांजैक्शन करनी हो तो ऑनलाइन ही करते हैं। इसके लिए फोन पर गूगलपे,फोनेपे, यूपीआई,भीम, क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड आदि का प्रयोग लेते हैं। क्रेडिट कार्ड को प्रयोग में लेना थोड़ा अलग है।लेकिन क्या आप जानते हैं यह क्रेडिट कार्ड होता है और इसको कैसे प्रयोग में लेते हैं।

क्रेडिट कार्ड से आप इसमें बिना आपके अकाउंट में पैसे के भी आसानी से शॉपिंग कर सकते हो। इसके अलावा आप अपने क्रेडिट कार्ड से किसी भी काम को कर सकते हो। आज के समय में क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल इतना अधिक बढ़ गया है। खासकर युवा वर्ग के लोग तो क्रेडिट कार्ड को अपनी जेब में ही रखते हैं। अचानक से जब भी पैसे की जरूरत पड़ जाती है तो उस स्थिति में क्रेडिट कार्ड ही हर व्यक्ति का पहला सहारा हो जाता है। 

Credit card kaise bnate hai? क्रेडिट कार्ड कैसे बनाते हैं?

 क्या आप जानते हो कि आखिर यह क्रेडिट कार्ड होते क्या है और किस तरीके से क्रेडिट कार्ड को बनवाया जाता है। आपको बता दें कि क्रेडिट कार्ड अलग-अलग बैंक के द्वारा अलग-अलग तरह के बनाए जाते हैं किसी व्यक्ति की अगर नौकरी है तो उसको आसानी से क्रेडिट कार्ड मिल जाता है अर्थात उसका क्रेडिट कार्ड आसानी से बैंक के द्वारा बना दिया जाता है।

क्रेडिट कार्ड बनाने से पहले सभी बैंक और बड़ी कंपनियां हैं वह क्रेडिट कार्ड बनाने वाले व्यक्ति की इनकम का पूरा मूल्यांकन करती है। उसके बाद आपकी सैलरी स्टेटमेंट, टैक्स की रिटर्न जो भी जरूरी दस्तावेज है, उसका प्रूफ देना पड़ता है। उसके बाद ही क्रेडिट कार्ड बनता है। आइए आज हम आपको विस्तार से इस आर्टिकल में क्रेडिट कार्ड कैसे बनता है, क्रेडिट कार्ड क्या होता है, क्रेडिट कार्ड के लिए जो भी जरूरी महत्वपूर्ण जानकारियां हैं, उन सभी के बारे में आज हम आपको बताने वाले हैं। आइए जानते हैं..

क्रेडिट कार्ड क्या होता है?

दोस्तों क्रेडिट कार्ड एक ऐसी चीज है जो नौकरी पेशा बिजनेसमैन हर कामकाजी व्यक्ति को बैंक के द्वारा दी जाती है। इसके अंतर्गत आप उधार में अर्थात क्रेडिट में किसी भी काम को आसानी से अपने समय पर पूरा कर सकते हैं। और उस पैसे को आप एक निश्चित समय बैंक में वापस दिया जाता है। उसके अंतर्गत आपको उस क्रेडिट कार्ड के पैसे का भुगतान करना होता है। इसी को ही क्रेडिट कार्ड कहा जाता है।

 आसान और साफ शब्दों में अगर कहा जाए तो बैंक के द्वारा क्रेडिट कार्ड पर एक उधार की लिमिट दी जाती है। इसका उपयोग आप अपने किसी भी जरूरी काम के लिए कर सकते हो। उसके बाद इसको भुगतान का भी एक निश्चित समय बैंक के द्वारा भरना होता है। क्रेडिट कार्ड की लिमिट शुरुआत में ₹20000 से होती है। उसके बाद जैसे-जैसे अगर आप इसका भुगतान सही समय पर करते जाते हो तो आप की लिमिट आपके व्यवहार के ऊपर भी निर्भर करती है और उसी के अनुसार इस लिमिट को बढ़ा दिया जाता है।

क्रेडिट कार्ड को अगर उपयोग में लेते हो तो उसके पैसे का भुगतान आपको महीने के अंत में करना होता है। इसके लिए बैंक के द्वारा आपको इंटरेस्ट भी भरना पड़ता है। अगर किसी कारणवश उस पैसे को आप समय पर नहीं भुगतान करते हैं तो भुगतान की राशि पर बैंक द्वारा लेट फीस चार्ज और आपका रेट ऑफ इंटरेस्ट भी बहुत ज्यादा भरना पड़ जाता है। Also Read: Dark net (डार्क वेब) क्या है और कैसे काम करता है?

क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन

अगर आप क्रेडिट कार्ड बनवाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कुछ जरूरी दस्तावेजों की जरूरत पड़ती है। इसके अलावा आपको एक बैंक अकाउंट की आवश्यकता पड़ती है उसके बाद ही आप ऑनलाइन या ऑफलाइन क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हो।

सबसे पहले क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए जो महत्वपूर्ण जरूरी दस्तावेज है उनमें से आपको आधार कार्ड पैन कार्ड, फोटो, इनकम टैक्स रिटर्न इन सभी दस्तावेजों के बाद ही आप बैंक में जाकर या घर बैठे ऑनलाइन दो तरह से आवेदन कर सकते हो।

ऑफलाइन अगर आप क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करते हो तो आपको किसी भी बैंक में जाकर वहां के किसी एजेंसी या बैंक के किसी भी कर्मचारी से क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन फॉर्म लेकर सभी जरूरी कागजात और जो भी क्रेडिट कार्ड से रिलेटेड काम है। उन सभी को पूरा करके और फॉर्म भरकर बैंक में जमा करवा सकते हैं। अगर बैंक के द्वारा दी गई टर्म एंड कंडीशन आपकी पास हो जाती है तो आप का क्रेडिट कार्ड बन जाता है और क्रेडिट कार्ड बनकर आपके घर सीधा पहुंचा दिया जाता है।

आजकल सभी बैंक अपने खुद की वेबसाइट पर क्रेडिट कार्ड बनाने के लिए ऑनलाइन आवेदन की मदद उसके कस्टमर के लिए देती है। ऐसे में अगर आपका जिस बैंक में भी अकाउंट है तो आप उस बैंक की वेबसाइट को ओपन कर के क्रेडिट कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आपको बैंक के द्वारा कुछ डिटेल्स मांगी जाएंगी। इसके अलावा जब आप क्रेडिट कार्ड के फॉर्म को भरते हो जो भी जानकारी दी जाती है 

 आपकी क्रेडिट कार्ड की एप्लीकेशन फॉर्म को बैंक अगर एक्सेप्ट कर लेगा तो बैंक में उन सभी की सही ढंग से जांच होने के बाद वहां से कॉल आ जाएगा। अगर आपकी सभी जानकारी चाहिए तो आप का क्रेडिट कार्ड बन जाएगा। अगर गलत है तो वह नहीं बनेगा। सबसे जरूरी और महत्वपूर्ण बात अगर आप नेट बैंकिंग का उपयोग करते हो तो आपका क्रेडिट कार्ड आसानी से ऑनलाइन भी अप्लाई किया जा सकता है।

निष्कर्ष

आज हमने आपको इस पोस्ट के द्वारा यह जानकारी प्रदान की है कि क्रेडिट कार्ड किस तरह से बनाया जाता है। इस विषय में आपको ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरीके से क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन के तरीकों के बारे में इस आर्टिकल में बताया है। हमें उम्मीद है कि आपको हमने जो जानकारी दी है, वह पसंद आई होगी। इसी तरह की जानकारियों के लिए आप हमारी वेबसाइट पर जुड़े रह सकते हैं और यह जानकारी पसंद आए तो कमेंट करके जरूर बताएं।

Popular Post

PUBG mobile lite hack download

PUBG mobile lite hack download की पूरी Step-by-Step जानकारी

1
अगर आप इस लेख पर आए है तो हम उम्मीद करते हैं कि आप अब जी के बहुत बड़े फैन होंगे अगर आप चाहते...

Y2Mate YouTube Video Downloader- Download Audio, Video In HD Quality.

0
आज के इस डिजिटल युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स का प्रयोग अधिक प्रचलन में देखा जा रहा हैं, ऐसे में विभिन्न विभिन्न...

My Tools Town- Increase Like & Subscribers.

1
आज के समय मे जिस प्रकार से सोशल मीडिया ऐप्लकैशन पर लाइक व फॉलोवर्स का ट्रेंड बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हैं, उसे...

जन सूचना अधिकार अधिनियम – RTI क्या हैं?

2
किसी भी प्रदेश मे बेहतर साशन व प्रसाशन को बनाए रखने के लिए समान अधिकार प्रदान किए जाते हैं। जिसके चलते कोई भी व्यक्ति...
kalyan chart

kalyan chart – कल्याण चार्ट की पूरी जानकारी

0
क्या आप बिल्कुल कम समय में अमीर बनना चाहते हैं? अगर हां तो आप इस वक्त बिलकुल सही जगह पर है। हम यह नहीं...