Cybercrime Kya है?

Cybercrime एक प्रकार का crime है। जिसमे की computer एक वस्तु होता है crime ( hacking, phishing, spamming) का और इसे एक हथियार के तरीके से उपयोग किया जाता है कोई भी क्राइम करने के लिए जैसे कि जानकारी की चोरी , identity theft, online frau, held pornography, hate crimes इत्यादि इस साइबर क्राइम को जो अंजाम देते हैं उन्हें साइबर क्राइम कहते हैं.

ये cybercrime computer और internet technology का उपयोग किया जाता है। Personal information, business trade secrets इत्यादि को access करने के लिए और साथ ही इंटरनेट का भी हानिकारक उपयोग करते हैं। बहुत सारे malicious काम को करने के लिए इस काम के लिए वो कंप्यूटर्स का उपयोग करते हैं। Also Read: Metropolitan area network (MAN) क्या है?

Criminals जो इन illegal activities को करते हैं । उन्हें बहुत सारे लोग हैकर्स भी कहते हैं साइबर क्राइम को काफी लोग कंप्यूटर क्राइम भी कहते हैं इन साइबर क्राइम  के कुछ  common types है। Online bank information  theft , identity theft, online predatory crimes  और unauthorized computer access इत्यादि. इसके सिवाय ये साइबर क्राइम अगर बड़ा रूप ले जाये तो उसी Terrorism कहते हैं और ये रियल में काफी बड़ा गंभीर विषय है ।

Cybercrime Kya है?

Cybercrime के प्रकार

साइबर अपराध के प्रकार नीचे स्टेप्स मे हमने बताया है ।

  1. Hacking =  hacking एक तरह का साइबरक्राइम अपराध जिसमें एक व्यक्ति के कंप्यूटर के भीतर उसकी व्यक्तिगत या संवेदनशील जानकारी को प्राप्त करने के को देश से उस तक पहुँच बनाई जाती है। एवं किसी भी व्यक्ति के इजाजत के बिना उसके कंप्यूटर की सभी ज़रूरी जानकारीयों को चुराना हैंगिंग कहलाता है हैंगिंग करने वाले व्यक्ति को हैकर कहा जाता है हैकिंग में अपराधी अनेक प्रकार के सॉफ्टवेयर के द्वारा सेम व्यक्ति के कंप्यूटर में प्रवेश करने की कोशीश करता है और पीड़ित व्यक्ति को यह पता भी नहीं होता कि उसका कंप्यूटर कोई व्यक्ति एक्सेस कर रहा है।
  2. Spamming = इस तरह के क्राइम में उपयोगकर्ताओं को विभिन्न प्रकार के ई मेल आते हैं जिसमे ऐसे ईमेल मौजूद होते हैं जो केवल कंप्यूटर को हानि पहुंचाते हैं उन ई मेल से कंप्यूटर में खराब हो जाती है ऐसा तब होता है जब यूजर मेल को खोलकर उसमें लिंक पर क्लिक करता है और इससे उसके सिस्टम में वायरस ऑटोमैटिक डाउनलोड हो जाते हैं ।
  3. Phishing = फेसिंग उस क्राइम को कहा जाता है जिसमें यूजर को फ्रॉड मेल सेंड कर बेवकूफ बनाया जाता है और उसकी निजी जानकारी को चुराने का प्रयास किया जाता है इसमें ऑफर इनाम लॉटरी लगने जैसे मैसेज किए जाते हैं जिससे यूजर लालच में आकर अपनी बैंक डिटेल्स एड्रेस और अन्य सभी प्रकार के डिटेल्स को सबमिट कर देते हैं ।
  4. पहचान चुरा लेना = या फोर्ड उन व्यक्तियों के साथ होता है जो एक ऊंचे दर्जे पर बैठे होते हैं और प्रत्येक दिन उनकी सभी प्रकार के अनेक कैश ट्रांजैक्शन बैंक के साथ होती है ऐसे में उनका कोई करीबी या जान पहचान वाला व्यक्ति उनके साथ अपराध करता है और उसमें अकाउंट से संबंधित सभी जानकारी को चुपचाप चुरा लेता है फिर उसमें बैंक क्रेडिट कार्ड एटीएम कार्ड आदि का नंबर प्राप्त करने के बाद भी उसमें बैंक अकाउंट से पैसे का चोरी करता है जिसका खाता धारक को पता भी नहीं चलता जबकि यह एक प्रकार का काफी बड़ा क्राइम अपराध है जिसमें खाताधारक को बहुत बड़ी वित्तीय स्थिती से गुजरना पड़ता है  ।

निष्कर्ष  = आज के इस पोस्ट में हमने आपको साइबर क्राइम के बारे में अलर्ट किया है और इसे संबंधित सभी इंफॉर्मेशन को आप को हमने बताया है उम्मीद है हमारी  यह  पोस्ट आपको पसंद आई होगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें

Popular Post

PUBG mobile lite hack download

PUBG mobile lite hack download की पूरी Step-by-Step जानकारी

1
अगर आप इस लेख पर आए है तो हम उम्मीद करते हैं कि आप अब जी के बहुत बड़े फैन होंगे अगर आप चाहते...

Y2Mate YouTube Video Downloader- Download Audio, Video In HD Quality.

0
आज के इस डिजिटल युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स का प्रयोग अधिक प्रचलन में देखा जा रहा हैं, ऐसे में विभिन्न विभिन्न...

My Tools Town- Increase Like & Subscribers.

1
आज के समय मे जिस प्रकार से सोशल मीडिया ऐप्लकैशन पर लाइक व फॉलोवर्स का ट्रेंड बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हैं, उसे...

जन सूचना अधिकार अधिनियम – RTI क्या हैं?

2
किसी भी प्रदेश मे बेहतर साशन व प्रसाशन को बनाए रखने के लिए समान अधिकार प्रदान किए जाते हैं। जिसके चलते कोई भी व्यक्ति...
kalyan chart

kalyan chart – कल्याण चार्ट की पूरी जानकारी

0
क्या आप बिल्कुल कम समय में अमीर बनना चाहते हैं? अगर हां तो आप इस वक्त बिलकुल सही जगह पर है। हम यह नहीं...