फेसबुक क्या है? Facebook kya hai?

आज फेसबुक एप एंड पॉपुलर सोशल मीडिया की वेबसाइट है। जिसके द्वारा लोग अपनी हर बात को छोटी से छोटी खुशियों को शेयर करते हैं। अक्सर लोगों को सोशल मीडिया पर ही ज्यादा समय बिताते हुए देखा जाता है। फेसबुक का उपयोग आज दुनिया भर के लोगों के द्वारा किया जाता है। क्या आपने कभी सोचा है आखिर यह फेसबुक है क्या, किसने इसको बनाया होगा।

फेसबुक का फुल फॉर्म क्या होता है, अक्सर लोग इन सब चीजों के बारे में गूगल पर सर्च करके जानकारी प्राप्त कर ही लेते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि जब आप किसी भी जानकारी को सर्च करते हैं तो क्या वो जानकारी आपको सही तरीके से मिल पाती है। आज हम आपको इन्हीं सब सवालों के बारे में बताने जा रहे हैं, आखिर क्या होता है,फेसबुक के द्वारा इस तरह से लोग एक दूसरे से आज पूरी दुनिया में कनेक्ट है आइए जानते हैं.

फेसबुक क्या है? Facebook kya hai?

क्या है “Facebook”

फेसबुक एक सोशल मीडिया की ऐसी वेबसाइट है, जिस पर आज सभी लोग एक दूसरे से कनेक्ट रहते हैं। आज अधिक से अधिक समय लोग फेसबुक पर बिताना पसंद करते हैं। फेसबुक परिवार और दोस्तों को एक साथ जुड़े हुए रखता है फेसबुक को शुरुआत में कॉलेज के छात्रों के लिए ही डिजाइन किया था। सन 2004 में फेसबुक को मार्क जुकरबर्ग के द्वारा बनाया गया।

उस समय मार्क जुकरबर्ग हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ते थे। 13 साल की आयु से कोई भी व्यक्ति जिसके पास में वैलिड ईमेल ऐड्रेस ना हो ऐसे में व्यक्ति फेसबुक से जुड़ सकता है, लेकिन इसको मार्क जुकरबर्ग करके दिखाया था। आज फेसबुक दुनिया का सबसे बड़ा सोशल नेटवर्किंग साइट है, जिस पर कम से कम 1 बिलियन से भी अधिक यूजर्स इसको उपयोग में ले रहे हैं।

Facebook फुल फॉर्म इन हिंदी

वैसे तो फेसबुक का कोई फुल फॉर्म नहीं होता है, लेकिन इसको शार्ट रूप में सभी लोग अक्सर FB बोलते हैं। यह दो शब्दों से मिलकर बना हुआ है, face और book। फेस का अर्थ होता है “फोटो” और बुक का अर्थ होता है “फाइल”। अर्थात जिस तरह से किसी बुक में हम किसी भी इंपॉर्टेंट चीजों को लिखते हैं,वह हमेशा उसमें लिखी ही रहती है। उसी तरह से फेसबुक पर भी आप अपनी सभी इंपॉर्टेंट चीजों को जैसे फोटो, ऑडियो, वीडियो, टेक्स्ट मैसेजेस आदि को सेव करके हमेशा के लिए रख सकते हो।

Facebook को किसने बनाया

फेसबुक को 2004 में लांच किया गया था। जिसको आज आप सभी फेसबुक के नाम से ही जानते हो शुरुआत में इसका नाम “the facebook” रखा था। उस समय इसके लॉन्च होने के कुछ समय बाद में फेसबुक का नेटवर्क बहुत तेजी से बढ़ने लगा ओर अगस्त 2005 में द फेसबुक का नाम बदलकर ओन्ली facebook ही रख दिया गया, जो कि आज आप सभी के सामने यह बहुत प्रसिद्ध वेबसाइट बन चुकी है।

फेसबुक को बनाने वाले व्यक्ति का नाम “मार्क जुकरबर्ग” है। मार्क जुकरबर्ग ने facebook को अपने मित्र डस्टिन मोस्कोवितज, एडुरंर्दो सवेरिन व क्रिस हूघेस के द्वारा मिलकर फेसबुक बनाया गया था। मार्क जुकरबर्ग के द्वारा स्टडी के दौरान उनके दिमाग में यह बात आई जब वह हार्डवार्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ रहे थे। वहां पर एक डेटा बुक होती थी।

उस डेटा बुक के अंदर यूनिवर्सिटी के सभी स्टूडेंट की प्रोफाइल और उनकी पूरी जानकारी जैसे नाम, पता उनकी पसंद, नापसंद आदि के बारे में पूरी इंफॉर्मेशन उस डेटा बुक के अंदर होती थी। इस डेटा बुक को सभी नए आने वाले स्टूडेंट्स को दे दिया जाता था। ताकि वह सभी के बारे में पूरी जानकारी सही से प्राप्त कर सके। इस बुक को ध्यान में रखकर ही मार्क जुकरबर्ग ने अपनी वेबसाइट का नाम facebook रखा था।

Facebook के बारे में कुछ रोचक तथ्य

आज फेसबुक एक ऐसा सोशल मीडिया का डिजिटल प्लेटफॉर्म है, जिसको देश दुनिया के सभी व्यक्तियों के द्वारा पसंद किया जा रहा है। आज हम आपको फेसबुक के कुछ ऐसे रोचक तथ्य के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं जिनके बारे में बहुत कम लोगों को जानकारी है आइए जानते हैं..

1. फेसबुक का रंग जब से इस वेबसाइट को बनाया गया है तभी से ही यह नीले रंग का है, क्योंकि फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग का कलर ब्लाइंड है, इसीलिए वह हर रंग में अंतर नहीं कर पाते हैं। इसी वजह से फेसबुक का रंग नीला है ताकि उन्हें इसमें किसी तरह की कोई परेशानी ना हो।

2. फेसबुक हिंदी और इंग्लिश लैंग्वेज में ही नहीं बल्कि 70 अलग लैंग्वेज में इसको ट्रांसलेट किया जा सकता है, इसीलिए आज दुनिया के हर व्यक्ति फेसबुक को उपयोग में ले रहे।

3. फेसबुक पर प्रतिदिन छह लाख से अधिक हैकर अटैक हो जाते हैं।

4. किसी भी वेबसाइट को बनाने के लिए वेब होस्टिंग और डोमेन की जरूरत पड़ती है। डोमिन एक वेबसाइट का ही नाम है, और वेब होस्टिंग यानी उस पर अपलोड की जाने वाली फोटो, वीडियो,ऑडियो आदि। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि फेसबुक पर हर महीने 3 करोड डॉलर सिर्फ होस्टिंग पर ही खर्च किए जाते हैं।

5 फेसबुक पर लगभग अरबों खरबों अकाउंट बने हुए हैं लेकिन सबसे अधिक फेक अकाउंट भारत के लोगो के बने हुए हैं।

6. फेसबुक पर आसानी से किसी भी व्यक्ति को ब्लॉक किया जा सकता है, लेकिन मार्क जुकरबर्ग को फेसबुक पर ब्लॉक नहीं कर सकते है।

7. आज facebook के बाद में अगर सबसे अधिक उपयोग में की जाने वाली ऐप है, उसका नाम whatsapp है। 2014 में फेसबुक ने व्हाट्सएप को भी खरीद लिया था।

Conclusion

उम्मीद है आपको आज हमने फेसबुक का फुल फॉर्म क्या होता है। इसके बारे में जो भी जानकारी दी है। वह समझ में आई होगी। अगर यह सब जानकारी पसंद आई तो आप हमें कमेंट करके भी बता सकते हैं, और किसी भी अन्य जानकारी के लिए आप हमारी वेबसाइट से भी जुड़े रह सकते हैं।

Jio Phone Me Play Store Kaise Chalaye? – HindiKalam

1
Jio Phone Me Play Store Kaise Chalaye? : हेलो दोस्तो आप सभी आर्टिकल का टाइटल पढ़कर समझ गए होंगे की, आज के आर्टिकल में...

Paypal Account Kaise Banaye? in 2021 – HindiKalam

3
Paypal Account Kaise Banaye? in 2021 : हेलो दोस्तो कैसे है आप सभी हम उम्मीद करते है की आप सभी ठीक होंगे। आज हम...

लव का फुल फॉर्म क्या होता है? Love ka full form kya hota hai?

1
हेलो दोस्तों क्या आप जानते हैं लव का फुल फॉर्म क्या होता है। लव प्यार,दोस्ती, भावना को कहा जाता है। प्यार एक ऐसा  ऐसा...

Free fire का बाप कौन है? Free Fire ka baap kaun hai 2021?

1
Free Fire ka Baap kaun hai? वैसे तो हर गेम अपने आप में महान होता है लेकिन लोगो को कुछ अच्छा देखने के लिए...

वर्क शीट क्या होती है What is a Worksheet?

2
आज के तकनीकी विज्ञान से भरे युग में सभी कार्य कंप्यूटर पर किए जाते हैं.। ऐसे में बहुत ही ऐसी कंप्यूटर एप्लीकेशंस होती है...
error: Content is protected !!