Floppy Disk क्या है? और इसके कार्य

दोस्तों क्या आप जानते हैं कि फ्लॉपी डिस्क क्या है? एक समय था जब  Floppy Disk drive (FDD) ही primary means था computer मे data add करने के लिए सिर्फ तब तक ही जब तक की CD – ROM Drive ज्यादा पॉपुलर नहीं बन गया क्यूँ कहें तो यह FDD बहुत ही key component होते थे।

personal computers के लिए वह भी लगभग 20 सालों के लिए एक Floppy Disk ऐसा Storage medium था जिसमे की एक thin और Flexible magnetic disk  होती थी एक plastic carrier के अंदर इसे सन 1970s मैं काफी अधिक उपयोग किया जाता था वही early 2000 तक इसे दूसरे Storage Devices जिनकी ज्यादा कैपेसिटी होती है।

Floppy Disk क्या है? और इसके कार्य

उन्हें इसे धीरे – धीरे replace कर दिया यह Floppy Disk एक तरह का magnetic storage medium  होते हैं Computer system के वही इन Floppy Disk मे डाटा की read और write करने के लिए आपके computer system मे एक Floppy Disk drive ( FDD)  अवश्य से होना चाहिए।

पहले के वक्त में फ्लॉपी डिस्क का उपयोग कंप्यूटर के ऑपरेटिंग सिस्टम को स्टोर किया जाता इसलिए आज हमने सोचा क्यों नहीं आप सभी लोगों को Floppy Disk की पूरी जानकारी हिंदी में प्रदान की जाए जिससे आप सभी को इस पुराने storing Device के बारे में कुछ जानने को मिले इसलिए बिना देरी किए चलिए शुरू करते हैं और जानते हैं कि Floppy Disk इन हिंदी। Also Read: Jio recharge plan list 2021 जिओ रिचार्ज प्लान लिस्ट 2021

Floppy Disk क्या है?

Floppy Disk एक प्रकार की डाटा स्टोरेज डिवाइस होती है इसे सबसे पहली बार सन 1969 मे Create किया गया उसी साल जिस साल इंटरनेट की शुरुआत की गई यह Secondary या External Memory का भाग है यह मैग्नेटिक सामग्री चिपकी होती है।

मैग्नेटिक डिस्क को अन्य प्लास्टिक जैकेट में बंद किया जाता है तथा मैग्नेटिक्स डिस्क के एक छोटे से भाग को खुला रखा जाता है कंप्यूटर में इस्तेमाल होने वाली फ्लॉपी डिस्क आकार में 5.25 इंच ( जिसे मिनी फ्लॉपी भी कहा जाता है) अथवा 3.5 इंच ( जिसे माइक्रो  Floppy भी कहते है ) की होती है ।

फ्लॉपी डिस्क बहुत ही कम मात्रा में डाटा को स्टोर कर सकती है पहले कंप्यूटर में इसका अधिक यूज़ होता था परन्तु सीडी के आने के बाद से इसका इस्तेमाल समाप्त ही हो गया क्योंकि उसमें स्टोरेज क्षमता ज्यादा थी Floppy  Disk में सारा डाटा एक गोलाकार चुंबकीय प्लेट में स्टोर होता है ।

और वहीं से सारे डाटा को रेट किया जाता है फ़्लॉपी डिस्क में डाटा सिर्फ फ्लॉपी डिस्क ड्राइवकी सहायता से ही एक्सेस किया जा सकता है। यह ड्राइव कंप्यूटर हार्डवेयर का वह भाग होता है जो फ़्लॉपी डिस्क से डाटा को रीड करता है और फिर उसे कंप्यूटर पर प्रदर्शित करता है।

Floppy Disk कैसे काम करती है?

Floppy Disk एक मैग्नेटिक मीडिया होती है मैग्नेटिक मीडिया एक स्टोरेज डिवाइस होती है जो इन्फोर्मेशन स्टोर करने के लिए मैग्नेटिक पैटर्न का उपयोग करती है एक  फ्लॉपी डाटा को स्टोर एवं रीड करने का कार्य  Floppy Disk के read head के माध्यम से करती है 3.5 इंच की Floppy Disk को जब किसी ड्राइव में insert किया जाता हैं।

तो मेटल स्लाइड door ओपन हो जाता है जो फ्लॉपी डिस्क में मैग्नेटिक Disk को expose कर देता है अगर कंप्यूटर की लेटर में इंफॉर्मेशन को राइट करना है तो read/write हैंडस की मैग्नेटिक polarity को align कर देता है जिन्हें बाद में रीड किया जा सके।

निष्कर्ष = आज के इस पोस्ट में हमने आपको बताया है कि फ्लॉपी डिस्क  क्या है? और इसके कार्य  क्या है? इस पोस्ट से आपने आज जरूर कुछ नया सीखना होगा उम्मीद है कि हमारी यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी तो इससे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें

Popular Post

PUBG mobile lite hack download

PUBG mobile lite hack download की पूरी Step-by-Step जानकारी

1
अगर आप इस लेख पर आए है तो हम उम्मीद करते हैं कि आप अब जी के बहुत बड़े फैन होंगे अगर आप चाहते...

Y2Mate YouTube Video Downloader- Download Audio, Video In HD Quality.

0
आज के इस डिजिटल युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स का प्रयोग अधिक प्रचलन में देखा जा रहा हैं, ऐसे में विभिन्न विभिन्न...

My Tools Town- Increase Like & Subscribers.

1
आज के समय मे जिस प्रकार से सोशल मीडिया ऐप्लकैशन पर लाइक व फॉलोवर्स का ट्रेंड बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हैं, उसे...

जन सूचना अधिकार अधिनियम – RTI क्या हैं?

2
किसी भी प्रदेश मे बेहतर साशन व प्रसाशन को बनाए रखने के लिए समान अधिकार प्रदान किए जाते हैं। जिसके चलते कोई भी व्यक्ति...
kalyan chart

kalyan chart – कल्याण चार्ट की पूरी जानकारी

0
क्या आप बिल्कुल कम समय में अमीर बनना चाहते हैं? अगर हां तो आप इस वक्त बिलकुल सही जगह पर है। हम यह नहीं...