GDP ka Full form, GDP की शुरुआत कैसे और कब हुई

GDP शब्द आमतौर पर आपको सुनने को हमेशा मिल जाता है जैसे – न्यूज़ चैनलों पर और न्यूज़ पेपर में लेकिन सवाल यह है कि देश की तरक्की में इसका क्या योगदान है और इसका उपयोग क्यो, कैसे होता है GDP किसी भी देश की अर्थव्यवस्था को मापने का एक पैमाना है इससे यह अनुमान लगाया जाता है कि किसी भी देश का विकास किस गति से हो रहा है.

GDP ka Full form, GDP की शुरुआत कैसे और कब हुई

किसी भी देश की जीडीपी का अच्छा होना उस देश की मजबूत अर्थव्यवस्था को दिखाता है इंडिया में तीन महीने में एक बार जीडीपी की गणना की जाती है तो न्यूज़ चैनल पर बहुत डिबेट की जाती है कयोंकि जीडीपी किसी भी देश में हो रहे विकास का अनुमान बताती है जिसे बहुत कम लोग आसानी से समझ पाते हैं कि GDP क्या है

GDP की शुरुआत कैसे और कब हुई?

द्वितीय विश्व युद्ध 1930 में खत्म हो चुका था और पूरी दुनिया आथिर्क स्थिति से परेशान हो चुकी थी और इसके 10 साल बाद पूरी दुनिया इस आथिर्क स्थिति की  परेशानी से बाहर निकल सकी उसके बाद देश के आथिर्क विकास का पता लगाने के लिए ऐसे तरिके के बारे में खोज शुरू हुआ जिसे देश के आथिर्क तरक्की का पता चल सके उस समय देश की आथिर्क विकास दर के मापने का कोई तरिका नहीं था इसलिए उस समय देश की बैंकिंग कंपनिया आगे आयी जिसमें फाइनेंशियल इस्टिटयूडस और बैंक भी शामिल थे. Also Read: ब्लॉगिंग से पैसा कैसे कमाए? Blogging se paise kaise kamaye?

इन लोगों ने देश को भरोसा दिलाया कि वह देश के आथिर्क विकास का हिसाब रखेगी और उसे देश के सामने लाएंगी इसी प्रकार से देश के आथिर्क विकास मापने के काम को बैंकों के हवाले दे दिया गया परंतु देश के आथिर्क विकास के मापन का कोई अच्छा तरिका नहीं होने के बजह यह ब्यवस्था भी देश के आथिर्क विकास का सही आंकलन नहीं कर पाई और इस ब्यवस्था में कई कमीया थी

सबसे पहले सन् 1944 में ब्रेटन सम्मेलन के बाद विश्व बैंक और अंतराष्ट्रीय मुद्रा कोष के आधार पर अर्थव्यवस्था और इसको साल की तरक्की का अनुमान लगाने के लिए जीडीपी का उपयोग किया जाने लगा इसके बाद यह बहुत विख्यात हुए और इस प्रकार से फिर देश के आथिर्क विकास को मापने के लिए जीडीपी बन गया.

जीडीपी फुल फॉर्म क्या है?

G  = Gross

D  = Domestic

P  = Product

इसका हिंदी में मतलब सकल घर का उत्पाद है और भारत में तीन महीने में एक बार जीडीपी की गणना की जाती है जिससे देश के आथिर्क विकास का अनुमान लगाया जाता है

जीडीपी के तीन प्रमुख घटक

  1. प्राथमिक घटक = इसमें किसान के क्षेत्र से संबंधित चीजों का मूल्य निकाला जाता है
  2. द्वितीय घटक = इसमें उघोग क्षेत्र से संबंधित चीजों का मूल्य निकाला जाता है
  3. तृतीय घटक = इसके अंदर सेवा क्षेत्र से संबंधित चीजों का मूल्य निकाला जाता है

जीडीपी गिरने से क्या होता है

जीडीपी की गणना से सबसे ज्यादा असर आम जनता पर और देश के गरीब लोगों पर पडता है अगर किसी भी देश को जीडीपी गिरती है तो उस देश के गरीब लोग और भी अधिक गरीब हो जाते हैं जिससे वह देश और गरीबी की ओर चला जाता है.

किसी देश की जीडीपी कैसे बढती है

किसी भी देश की जीडीपी तब बढती है जब उस देश के निवासी उस देश में बनी हुई चीजों को खरीदते हैं और इसके बढोत्तरी के लिए चीजों को अन्य देशों में निर्यात करना होता है इस स्थिति में भी उस देश की बढोत्तरी होती है.

जीडीपी Formula क्या है और GDP kese मापी जाती हैं

GDP मापने के लिए एक  फॉर्मूला बनाया गया है जिसकी सहायता से हम जीडीपी को बहुत ही आसानी से माप सकते हैं

 GDP Formula – GDP = C+ I + G + (X – M)

C – Consumptionउपभोग
I –  Investmentकुल निवेश
G – Government spendingसरकारी खर्च
X – Exportनिर्यात
M – Importआयात

Popular Post

PUBG mobile lite hack download

PUBG mobile lite hack download की पूरी Step-by-Step जानकारी

1
अगर आप इस लेख पर आए है तो हम उम्मीद करते हैं कि आप अब जी के बहुत बड़े फैन होंगे अगर आप चाहते...

Y2Mate YouTube Video Downloader- Download Audio, Video In HD Quality.

0
Y2Mate YouTube Video Downloader: आज के इस डिजिटल युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स का प्रयोग अधिक प्रचलन में देखा जा रहा हैं,...

My Tools Town- Increase Like & Subscribers.

1
आज के समय मे जिस प्रकार से सोशल मीडिया ऐप्लकैशन पर लाइक व फॉलोवर्स का ट्रेंड बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हैं, उसे...

जन सूचना अधिकार अधिनियम – RTI क्या हैं?

2
किसी भी प्रदेश मे बेहतर साशन व प्रसाशन को बनाए रखने के लिए समान अधिकार प्रदान किए जाते हैं। जिसके चलते कोई भी व्यक्ति...
kalyan chart

kalyan chart – कल्याण चार्ट की पूरी जानकारी

0
क्या आप बिल्कुल कम समय में अमीर बनना चाहते हैं? अगर हां तो आप इस वक्त बिलकुल सही जगह पर है। हम यह नहीं...