iit and iti difference in hindi

अगर आप एक स्टूडेंट है तो आपने IIT और ITI का नाम जरूर सुना होगा क्योंकि यह दोनों नाम सुनने में एक समान लगते है इसलिए बहुत सारे लोगों को लगता है यह दोनों एक ही कोर्स है मगर हम आपको इस लेख में iit and iti difference in hindi के बारे में एक विस्तार पूर्वक जानकारी देने जा रहे हैं आपको हम बताएंगे कि इन दोनों कोर्स को करने से किस प्रकार की नौकरी लगती है और किस कोर्स का ज्यादा महत्व है। 

जैसा कि आप सब जानते है आज हमारे बीच विभिन्न प्रकार के कोर्स आ चुके है ITIऔर IIT भी वैसा ही कोर्स है मगर इन कोर्स के बाद लगने वाली नौकरी और पढ़ाई जाने वाली गुणवत्ता की वजह से यह काफी प्रचलित है आपको आज के समय में  iit and iti difference in hindi पता होना बहुत आवश्यक है। 

IIT difference ITI

iit in hindi

IIT का फुल फॉर्म इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी होता है। IIT का भारत में काफी महत्व है यह संस्था का एक पुराना और गौरवशाली इतिहास है इसे भारत में सर्वप्रथम 1951 में खड़कपुर में शुरू किया गया था आज भी IIT खड़कपुर को भारत के सबसे नामी IIT संस्थानों में माना जाता है। इस वक्त भारत में कुल 23 IIT संस्था मौजूद है और हर संस्था का अपना एक अलग गौरवशाली इतिहास है। 

इस वक्त भारत मैं IIT का काफी महत्व है हर साल लाखों बच्चे अपने मन में एक नई अरमान लिए IIT संस्थानों की ओर आते है मगर उनमें से केवल कुछ ही सफल हो पाते है।

ITI in hindi

ITIएक कोर्स है जिसका फुल फ्रॉम इंडियन टेक्निकल इंस्टीट्यूट होता है।यह कोर्स भी भारत का एक प्रसिद्ध कोर्स है जिसे लोग आमतौर पर 10वीं या 12वीं के बाद करते है आप इसे स्नातक की डिग्री पाने के बाद भी कर सकते हैं।  

ITIकोर्स में बताया जाता है क्या आप किस प्रकार इंडस्ट्री के बनने वाली चीजों का उत्पादन कर सकते हैं जैसे बिजली ठीक करना पानी का नल ठीक करना और कारपेंटर जैसे कार्यों को अच्छे से समझाया जाता है। 

 iit and iti difference in hindi

अगर आपको ITIऔर IIT में गलतफहमी हो जाती है तो हमने कुछ बिंदुओं के आधार पर इन दोनों कोर्स के बीच के अंतर को समझाया है उसे ध्यानपूर्वक पढ़ें – 

IIT का फुल फॉर्म इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी होता है ITIका फुल फॉर्म इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी इंस्टिट्यूट होता है। 

IIT को विज्ञान के बाद वही छात्र कर सकते है जिन्होंने विज्ञान विषय लिया हो और इस कोर्स को शुरू करने के लिए सबसे पहले उन्हें एक कठिन इंट्रेंस परीक्षा पास करनी होती है जिसे मींस और एडवांस कहते हैं। 

ITIको करने के लिए किसी भी प्रकार की एंट्रेंस परीक्षा पास करने की आवश्यकता नहीं होती है आपको केवल ITIसंस्थानों में एडमिशन लेना होता है जो उसके लिए अब का दसवीं पास होना अनिवार्य है। 

भारत में केवल 23 IIT संस्था है जिसके बाद आपको किसी कंपनी में अच्छी नौकरी मिल सकती है और IIT के बाद आपको बिजली ठीक करने और विभिन्न प्रकार की टेक्निकल नौकरियां ट्रेन में या अन्य कंपनियों में मिल सकती है। 

निष्कर्ष 

उम्मीद करते हैं इसलिए को पढ़ने के बाद आप iit and iti difference in hindi को अच्छे से समझ पाए होंगे और IIT या ITIमें किसी कोर्स को करने के लिए जिज्ञासा जागी होगी अगर इसलिए एक से आपको लाभ हुआ है तो इसे अपने मित्रों के साथ साझा करें और अपने विचार हमें कमेंट करके बताना ना भूलें। 

Popular Post

PUBG mobile lite hack download

PUBG mobile lite hack download की पूरी Step-by-Step जानकारी

1
अगर आप इस लेख पर आए है तो हम उम्मीद करते हैं कि आप अब जी के बहुत बड़े फैन होंगे अगर आप चाहते...

Y2Mate YouTube Video Downloader- Download Audio, Video In HD Quality.

0
आज के इस डिजिटल युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स का प्रयोग अधिक प्रचलन में देखा जा रहा हैं, ऐसे में विभिन्न विभिन्न...

My Tools Town- Increase Like & Subscribers.

1
आज के समय मे जिस प्रकार से सोशल मीडिया ऐप्लकैशन पर लाइक व फॉलोवर्स का ट्रेंड बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हैं, उसे...

जन सूचना अधिकार अधिनियम – RTI क्या हैं?

2
किसी भी प्रदेश मे बेहतर साशन व प्रसाशन को बनाए रखने के लिए समान अधिकार प्रदान किए जाते हैं। जिसके चलते कोई भी व्यक्ति...

Jio Phone Me Whatsapp Kaise Chalaye?

1
आज के इस आधुनिक युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऐप्लकैशन का प्रचलन बहुत ही तेजी से चल रहा हैं। उसे देखते हुए हर...