IOS क्या है इसका Full form क्या है?

यह मसूर कंपनी एप्पल के प्रोडक्ट्स जैसे आईफोन ,आईपैड , IPod टच आदि के अच्छे सिस्टम संचालन के लिए इसका निर्माण किया गया है यह IPhone के प्रत्येक प्रोजेक्ट के अंदरूनी सिस्टम को ऑपरेट करता है जिससे वह बेहतर तरीके से काम करता है यह खासकर एपल के प्रॉडक्ट की सिस्टमाइज करने के लिए बनाया गया है।

IOS क्या है इसका Full form क्या है?

ताकि यह अंतर तो सभी को पता होगा कि एंड्रॉयड और एप्पल के प्रोडक्ट्स में बहुत अंतर होता है इसकी वजह यह है कि एंड्रॉयड प्रॉडक्ट को एंड्रॉयड सिस्टम ऑपरेट करता है तथा एप्पल के प्रो टैक्स को आईओएस ऑपरेट करता है आईओएस का निर्माण तकनीकी तौर पर C, C++  , directive – c , swift और Assembly language जैसी कंप्यूटर आधारित भाषा की सहायता से किया गया है।

आईओएस का काम एप्पल प्रोडक्ट्स में डिवाइस एप्लिकेशन डाउनलोड ,वीडियो तथा पिक्चर, क्वालिटी सिस्टम ,अपडेट ,फ़ोन ,स्पीड ,साउंड, सिस्टम इंटरनेट , कनेक्टिविटी स्टोरेज , स्पेस आदि गतिविधियों पर ध्यान देना तथा उसे अच्छे रूप से संचालित करना है।

IOS full form क्या है?

IOS full form “ iPhone operating system ” होता है iOS का हिंदी अर्थ आई फ़ोन ऑपरेटिंग सिस्टम होता है।

आईओएस का इतिहास

Steve jobs ने सबसे पहले release किया नया operating system iPhone के लिए साल 2007 में ही उन्होंने इसे कहा IPhone runs on os X ” वैसे यह एक अलग ही version था Mac OS का उनका आइडिया था कि आईफोन निर्भर करना चाहिए Web apps के ऊपर जो की behave करते हैं।

native apps के जैसे सन् 2008 में ऐप्पल ने अपने इस ओएस का नाम रीनेम किया और नया नाम दिया आईफोन ओएस वही बाद में साल 2011 में एप्पल ने इसे rebrand किया iOS के नाम से यह दिखाने के लिए कि इसे सिर्फ cell phones के लिए ही नहीं बल्कि दूसरे मोबाइल डिवाइस के लिए उपयोग किया जाता है।

ऑपरेटिंग सिस्टम क्या होता है और iOS दूसरे ऑपरेटिंग सिस्टम से किस प्रकार भिन्न हैं?

यदि हम Simplest terms मैं समझे तब तक ऑपरेटिंग सिस्टम वही होता है जो कि आपके और एक physical डिवाइस मशीन के बीच में स्थित होता है या सॉफ्टवेयर एप्लिकेशन के commands की interpret करता है और यह उन  apps को access प्रदान करता है जो कि डिवाइस के Features होते हैं।

जैसे कि – Multi – touchscreen या Storage Mobile operating system जैसे कि IOS दूसरे ऑपरेटिंग सिस्टम से differ करती है ताकि इससे वह हर एक ऐप को उनके ही protective shell मैं रखते हैं जिससे apps एक दूसरे के साथ दूर रहे एक दूसरे की tamper न कर सके इससे कोई वायरस को इन apps को infect करना impossible हो जाता है।

एक मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम में वहाँ से दूसरे तरह के malware अवश्य ही exist करते हैं यह protective shell जो की apps की around  होते हैं वह दूसरे Limitation भी post करते हैं क्योंकि यह एप्स की दूरी रखते हैं।

आपस मे directly communicate करने से एक दूसरे के साथ आईओएस परंतु एक अलग ही Feature का उपयोग करता है जिसे की extensibility कहते हैं जो कि ऐप को approval प्रदान करती है दूसरे एप के साथ Communicate करने के लिए।

निष्कर्ष = आज के इस पोस्ट में हमने आपको बताया है कि आईओएस क्या है तथा आईओएस की फुल फॉर्म क्या है? मुझेउम्मीद है कि आपको हमारी यह पोस्ट जरूर पसंद आई होगी हमारी हमेशा से यही कोशीश रहती है।

कि रीडर्स को iOS के बारे में पूरी जानकारी प्रदान की जाए जिससे उन्हें किसी दूसरे साइट या इंटरनेट में उस आर्टिकल के संदर्भ में खोजने की आवश्यकता न पड़े इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही स्थान में उन्हें सभी इन्फॉर्मेशन मिल जाएंगे।

हमारे इस आर्टिकल के संदर्भ में आपका कोई सुझाव हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके हमसे पूछ सकते हैं हम आपके सभी प्रश्नों के उत्तर देने की पूरी कोशीश करेंगे।

Popular Post

PUBG mobile lite hack download

PUBG mobile lite hack download की पूरी Step-by-Step जानकारी

1
अगर आप इस लेख पर आए है तो हम उम्मीद करते हैं कि आप अब जी के बहुत बड़े फैन होंगे अगर आप चाहते...

Y2Mate YouTube Video Downloader- Download Audio, Video In HD Quality.

0
Y2Mate YouTube Video Downloader: आज के इस डिजिटल युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स का प्रयोग अधिक प्रचलन में देखा जा रहा हैं,...

My Tools Town- Increase Like & Subscribers.

1
आज के समय मे जिस प्रकार से सोशल मीडिया ऐप्लकैशन पर लाइक व फॉलोवर्स का ट्रेंड बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हैं, उसे...

जन सूचना अधिकार अधिनियम – RTI क्या हैं?

2
किसी भी प्रदेश मे बेहतर साशन व प्रसाशन को बनाए रखने के लिए समान अधिकार प्रदान किए जाते हैं। जिसके चलते कोई भी व्यक्ति...
kalyan chart

kalyan chart – कल्याण चार्ट की पूरी जानकारी

0
क्या आप बिल्कुल कम समय में अमीर बनना चाहते हैं? अगर हां तो आप इस वक्त बिलकुल सही जगह पर है। हम यह नहीं...