Kbps फुल फॉर्म इन हिंदी? KBPS full form in hindi?

आज के समय में इंटरनेट का उपयोग ऐसा कोई व्यक्ति है जो इसको प्रयोग में नहीं लेता हो, इंटरनेट की दुनिया में इंटरनेट की स्पीड को ही किलोबाइट प्रति सेकंड मेगा बाइट प्रति सेकंड या गीगाबाइट प्रति सेकंड के द्वारा मापा जाता है। इसी को ही kbps कहते हैं। सामान्य तौर पर इंटरनेट की स्पीड किलोबाइट प्रति सेकंड में ही मानी जाती है, लेकिन कई जगह नेटवर्क एसएस के कारण मेगाबाइट प्रति सेकंड में भी इंटरनेट की स्पीड चलती है।

आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से kbps का फुल फॉर्म क्या होता है या फिर kbps क्या है, इसके अलावा kbps व mbps में अंतर क्या है, kbps का फुल फॉर्म आदि के बारे में जानकारी देने जा रहे.

Kbps फुल फॉर्म इन हिंदी? KBPS full form in hindi?

KbPs क्या होता है?

आप सभी लोग सोचते होंगे आखिर kbps होता क्या है आपकी जानकारी के लिए बता देते हैं। आज के समय में इंटरनेट का प्रयोग सभी लोग करते हैं उसी में 1kbps इंटरनेट की एक मानक इकाई होती है। इसको किलोबाइट प्रति सेकंड नेटवर्क पर डाटा ट्रांसफर की गति को यह माफी है। मापन ट्रांसलेशन के माध्यम से kbps किया जाता है। जब आप कोई भी डाटा ट्रांसफर करते हैं तो आपने देखा होगा कि इंटरनेट की स्पीड 25kb प्रति सेकेंड दिखाई देती है, इसका मतलब होता है कि 25600 बाइट एक सेकंड में डाटा ट्रांसफर हो जाता है।

kbps डाटा संसार क्षेत्र में व्यापक रूप से डाटा को ट्रांसफर कर देती है, या यह कहा जा सकता है कि यह ज्यादा ट्रांसफर करने की दर को मापने के लिए उपयोग में ले जाने वाली एक मानक इकाई होती है डाटा ट्रांसफर करने की गति को मापने के लिए अन्य और इकाई होती हैं जैसे एक किलोबाइट 1024 बाइट के बराबर मानी जाती है, इसी तरह से 1 मेगा बाइट 1024 मेगा बाइट के बराबर मानी जाती है, एक गीगाबाइट 1024 मेगा बाइट के बराबर मानी जाती है,और एक टेराबाइट 1024 गीगाबाइट के बराबर ही होती है। इन सभी इकाइयों के माध्यम से इंटरनेट की स्पीड को डाटा ट्रांसफर करने के लिए मापा जाता है।

Also Read: बिच्छू के काटने के लक्षण और घरेलु उपचार Bichchhu ke katne ka gharelu upchar?

KBPS का फुल फॉर्म

केबीपीएस की फुल फॉर्म “किलोबाइट पर सेकंड“होती है। जो इंटरनेट के 1 मानक इकाई होती है। डाटा ट्रांसफर करने की दर को केबीपीएस मानक इकाई के द्वारा ही मापा जाता है। इसका तात्पर्य यह होता है कि यह प्रति सेकंड किलोवाइट के रूप में इंटरनेट या जाटा का होने वाला ट्रांसफर इससे इकाई के द्वारा मापा जाता है। किलोबाइट प्रति सेकंड के बारे में हर कोई व्यक्ति बहुत अच्छे से जानता है, लेकिन यह डाटा ट्रांसफर करने की मानक इकाई का दूसरा सबसे छोटा भाग होता है। इससे छोटी इकाई जिसको बाइट के नाम से भी जानते हैं।

इसके बाद मेगाबाइट प्रति सेकंड, गीगाबाइट प्रति सेकेंड,टेराबाइट प्रति सेकंड अलग लगता है कि मानव इकाइयां होती है। केबीपीएस का हिंदी में फुल फॉर्म प्रति सेकंड किलोबाइटस होता है।

K – kilo

B – bite

P – par

S – second

Kbps के लाभ

केबीपीएस से बहुत सारे लाभ होते हैं। सबसे पहले तो हम जब अपने मोबाइल फोन या किसी भी चीज में इंटरनेट का प्रयोग करते हैं, उसमें जब कभी नेट स्लो या फिर बहुत तेज गति से चलने लग जाता है। इससे पता चल जाता है कि हमारी नेट की स्पीड कितनी है, या फिर हमारे डिवाइस में कोई गलती तो नहीं हो रही है।

Kbps का प्रयोग

केबीपीएस का प्रयोग डाटा संसार छेत्र में डाटा को ट्रांसफर करने की दर को मापने के लिए होता है डाटा ट्रांसफर करने के लिए अन्य कई प्रकार की गायों का प्रयोग होता है

1 किलोबाइट = 1024 वाइट

1 मेगाबाइट = 1024 किलोबाइट

1 गीगाबाइट = 1024 मेगाबाइट

1 टेराबाइट = 1024 गीगाबाइट

आपके डिवाइस में अलग-अलग नेटवर्क के आधार पर डाटा को ट्रांसफर करने की दर अलग-अलग प्रकार की हो सकती है अधिकतर डिवाइस में डाटा स्पीड केबीपीएस के आधार पर ही चलती है लेकिन कुछ बड़े डिवाइस ऐसे होते हैं जिनमें एमबीपीएस यानी लेगा बाइट प्रति सेकंड के हिसाब से डाटा की स्पीड चलती है।

Kb व kbps में डिफरेंस

KB प्रकार की मानक इकाई standard unit है। जिसका प्रयोग इंटरनेट के द्वारा होने वाले डाटा ट्रांसफर data transfer को नापने के लिए किया जाता है. जबकि दूसरी तरफ किलोबाइट प्रति सेकंड kilobyte per second का मतलब यह है कि प्रत्येक सेकंड में कितने किलो बाइट डाटा ट्रांसफर की जा रही है आसान शब्दों में बात बताया जाए तो यह भी एक मानक इकाई है जबकि किलोबाइट प्रति सेकंड  को मापने की दर है.

KBPS व MBPS में अंतर क्या है?

केबीपीएस टो एमबीपीएस दो इकाइयां इंटरनेट के डाटा को ट्रांसफर करने के लिए मानक इकाइयां स्टैंडर्ड यूनिट होती हैं, लेकिन इन 2 मानक इकाइयों में भी अंतर होता है। किलोबाइट प्रति सेकंड इंटरनेट डाटा ट्रांसफर करने के लिए होती है। यह इंटरनेट की सबसे छोटी मानक इकाई स्टैंडर्ड यूनिट है। जबकि एमबीपीएस किलोबाइट प्रति सेकेंड की तुलना में एक बड़ी इंटरनेट की मानक इकाई होती है। यह प्रति सेकड इकाई सन 1990 से 2000 के बीच में बहुत अधिक पॉपुलर थी। इसके बाद मेगा बाइट प्रति सेकेंड मानक इकाई को उपयोग करके इंटरनेट की गति को मापने संभव हो गया था।

conclusion

आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से केबीपीएस क्या होता है इसके बारे में जानकारी दी है उम्मीद है आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी पसंद आई होगी किस से जुड़ी किसी अन्य जानकारी या सहायता के लिए आप हमारी वेबसाइट से जुड़े रह सकते हैं या कमेंट सेक्शन में जाकर कमेंट भी कर सकते हैं?

Popular Post

PUBG mobile lite hack download

PUBG mobile lite hack download की पूरी Step-by-Step जानकारी

1
अगर आप इस लेख पर आए है तो हम उम्मीद करते हैं कि आप अब जी के बहुत बड़े फैन होंगे अगर आप चाहते...

Y2Mate YouTube Video Downloader- Download Audio, Video In HD Quality.

0
आज के इस डिजिटल युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स का प्रयोग अधिक प्रचलन में देखा जा रहा हैं, ऐसे में विभिन्न विभिन्न...

My Tools Town- Increase Like & Subscribers.

1
आज के समय मे जिस प्रकार से सोशल मीडिया ऐप्लकैशन पर लाइक व फॉलोवर्स का ट्रेंड बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हैं, उसे...

जन सूचना अधिकार अधिनियम – RTI क्या हैं?

2
किसी भी प्रदेश मे बेहतर साशन व प्रसाशन को बनाए रखने के लिए समान अधिकार प्रदान किए जाते हैं। जिसके चलते कोई भी व्यक्ति...
kalyan chart

kalyan chart – कल्याण चार्ट की पूरी जानकारी

0
क्या आप बिल्कुल कम समय में अमीर बनना चाहते हैं? अगर हां तो आप इस वक्त बिलकुल सही जगह पर है। हम यह नहीं...