LLB (एलएलबी) के लिए कितने परसेंटेज Number चाहिए?

LLB के लिए कितने परसेंटेज चाहिए? आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से पूरी जानकारी प्रदान करने वाले हैं दोस्तों वर्तमान के समय में यदि आप अपने करियर वकील मतलब कानून से जुड़े किसी भी क्षेत्र में बनाना चाहते हैं।

LLB (एलएलबी) के लिए कितने परसेंटेज Number चाहिए?

तो उसके लिए आपको एलएलबी की पढ़ाई करनी होती है दोस्त आज के वक्त में बहुत से छात्र लौ क्षेत्र का चुनाव अपने करियर के रूप में करना चाहते हैं।

इस क्षेत्र में छात्र मुख्यता एडवोकेट यानी वकील बनने की इच्छा रखते हैं यदि आपको भी रुचि वकील मतलब की एडवोकेट बनने में है या कानूनी यानी लो क्षेत्र से जुड़ी किसी भी नौकरी में कार्यरत होने का है।

तो अपनी एलएलबी कोर्स के विषय में तो अवश्य ही सुना होगा जो भी छात्र वकील क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं उसके लिए एलएलबी कोर्स से जुड़ें सभी प्रकार की बातों को जानकारी जानना बहुत ही जरूरी होता है।

इसलिए हमारी इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़ें से आपको बहुत सारी जानकारी मिलेंगी जो आपके लिए बहुत ही लाभदायक साबित होंगे।

Also Read: संसाधन किसे कहते हैं? तथा संसाधन की परिभाषा क्या है?

एलएलबी के लिए कितनी परसेंटेज चाहिए?

दोस्तों यदि बात करें सीधा सीधा एलएलबी में दाखिले के लिए जरूरी परसेंटेज की तो यह सभी स्थान पर एक समान नहीं होता अलग अलग कॉलेजों मैं इसका निर्धारण थोड़े अलग अलग स्तर पर कर सकते हैं।

12 वी के बाद = यदि आपको बारहवीं के बाद कानूनी क्षेत्र में जाने का सोचते है तो आपको एलएलबी में दाखिला लेना होगा जिसके लिए आपको किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से बारहवीं में किसी भी सब्जेक्ट के विशेष में कम से कम 50% नंबर होना चाहिए यदि आप सामान्य वर्ग में है।

तो वही एससी या एसटी और ओबीसी कास्ट को कुछ छूट दी जाती है BA, LLB  सरकारी एवं प्राइवेट दोनों ही कॉलेज से किया जा सकता है परंतु प्राइवेट कॉलेज में फीस अधिक हो सकती है जिसकी वजह से छात्र सरकारी कॉलेज से ही बीए या एल बी करना अधिक पसंद करते हैं।

12 वी में आए नंबर के साथ साथ आपको कॉलेज में दाखिले के लिए एंट्रेंस एग्जाम भी क्वालीफाई करना होता है जो उस स्तर पर आयोजित होती है।

मिनिमम परसेंटेज ( Minimum percentage) =  इसके अलावा न्यूनतम नंबर प्रतिशत अलग अलग राज्यों एवं कुछ कॉलेजों में अलग अलग हो सकता है इसके वगैर यदि आप स्नातक हो चूके हैं तो आप एल बी करने के योग्य हो जाते हैं।

इसके लिए भी आपको ग्रैजुएशन में सामान्य वर्ग के लिए अपने सब्जेक्ट में कम से कम 50% नंबर होने चाहिए एवं एससी या एसटी ओबीसी श्रेणियों में आने पर आपको इसमे 5% तक की छूट मिल सकती है यह मिनिमम परसेंटेज भी अलग अलग राज्यों में अलग अलग कॉलेजों में थोड़ा कम या अधिक हो सकता है।

इसका निर्धारण यूनिवर्सिटी अपने स्तर पर करती हैं आपका ग्रैजुएशन में बीए बीएसई कॉमर्स बीकॉम आदि में किसी में भी जो मुख्य विषय रहा उसमें कम से कम 50% के साथ स्नातक की डिग्री प्राप्त करके आप एलएलबी के लिए एलिजिबल हो जाते है।

LLB क्या है?

LLB का फुल फॉर्म “ बैचलर ऑफ Legislative laws ” होता है परंतु इससे Bachelor of Low भी कहा जाता है हिंदी में एलएलबी का फुल फॉर्म विधि स्नातक होता है।

एल वी एक ऐसा कोर्स होता है जिसमे आपको कानून के विभिन्न नियमों से परिचित कराया जाता है और फिर आपको इसका एक डिग्री दिया जाता है जिसके माध्यम से आप कोई वकील बनने के लिए योग्यता प्राप्त करते हैं भारत में जीतने भी एलएलबी या कानून आधारित कॉलेज है।

सभी का संचालन बार काउंसिल (Bar Council ऑफ India) ऑफ इंडिया यानी की भारतीय वीरा परिषद के माध्यम से क्रमबद्ध तरीके से होता है यदि आप किसी भी तरह का वकील एडवोकेट बनना चाहते हैं तो आप भी कर सकते हैं।

क्योंकि वकील बनने के लिए आपको भारत के सभी कानूनों और सभी नियमों की जानकारी को जानना आवश्यक होता है जो हम एल बी कोर्स करते समय सीखते हैं एलएलबी के कोर्स में इससे संबंधित सभी प्रकार की जानकारी हमें प्राप्त कराई जाती है।

निष्कर्ष = आज के इस पोस्ट में हमने आपको बताया है कि एलएलबी के लिए कितने परसेंटेज चाहिए तथा LLB क्या है और मिनिमम परसेंटेज कितना होना? चाहिए उम्मीद है यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें।

Popular Post

PUBG mobile lite hack download

PUBG mobile lite hack download की पूरी Step-by-Step जानकारी

1
अगर आप इस लेख पर आए है तो हम उम्मीद करते हैं कि आप अब जी के बहुत बड़े फैन होंगे अगर आप चाहते...

Y2Mate YouTube Video Downloader- Download Audio, Video In HD Quality.

0
Y2Mate YouTube Video Downloader: आज के इस डिजिटल युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स का प्रयोग अधिक प्रचलन में देखा जा रहा हैं,...

My Tools Town- Increase Like & Subscribers.

1
आज के समय मे जिस प्रकार से सोशल मीडिया ऐप्लकैशन पर लाइक व फॉलोवर्स का ट्रेंड बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हैं, उसे...

जन सूचना अधिकार अधिनियम – RTI क्या हैं?

2
किसी भी प्रदेश मे बेहतर साशन व प्रसाशन को बनाए रखने के लिए समान अधिकार प्रदान किए जाते हैं। जिसके चलते कोई भी व्यक्ति...
kalyan chart

kalyan chart – कल्याण चार्ट की पूरी जानकारी

0
क्या आप बिल्कुल कम समय में अमीर बनना चाहते हैं? अगर हां तो आप इस वक्त बिलकुल सही जगह पर है। हम यह नहीं...