Open source software in hindi ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर इन हिंदी

जब भी किसी सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करने की बारी आती है तो लोग अक्सर फ्री में सॉफ्टवेयर इंटरनेट पर डाउनलोड ज्यादा करते हैं क्योंकि आज इंटरनेट पर बहुत से ऐसे सॉफ्टवेयर है जो आपको फ्री में डाउनलोड करने को मिल जाएंगे लेकिन क्या आप फ्री में सॉफ्टवेयर के बारे में जानते हो क्योंकि अधिकतर ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर होते हैं जो आसानी से आपको फ्री में डाउनलोड करने के लिए मिल जाएंगे।

आपके दिमाग में जरूर यह सवाल आ रहा होगा कि क्यों कोई अपना सॉफ्टवेयर फ्री में डाउनलोड करने के लिए इंटरनेट पर अपलोड करेगा वह इनके पैसे चार्ज क्यों नहीं करते हैं यह सभी तरह के ख्याल हर इंसान के दिमाग में आते हैं लेकिन आपके मन में अगर इस तरीके के सवाल आ रहे हैं तो आज हम इस पोस्ट के माध्यम से आप सभी को ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर क्या होता है और यह किस तरह से काम करता है इसके बारे में सभी जानकारी इस लेख में बताने जा रहे हैं…

Open source software in hindi ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर इन हिंदी

ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर देखा जाए तो एक तरह से जर्नली फ्री सॉफ्टवेयर होते हैं जिनका इस्तेमाल कोई भी व्यक्ति अपने काम के लिए कर सकता है ओपन सोर्स डेवलपर यह जानबूझकर इनको बनाते हैं जहां पर यह इनकी शॉर्टकोड को पब्लिकली अवेलेबल करवा देते हैं ताकि दूसरे लोगों का भला कर सके।

यह लोग इन्हें पब्लिश करते हैं एक ओपन टॉर्च लाइसेंस के साथ जिसका तात्पर्य यह है कि दूसरे डेवलपर भी आपके साथ और को देख सकते हैं इसमें कुछ भी आप ऐड कर सकते हो उदाहरण के लिए open office, mozilla firefox, wikipedia, आदि। अगर आपको मुक्त स्त्रोत सॉफ्टवेयर के विषय में जानना चाहते हो तो हमारे द्वारा लिखे हुए इस पर लेख को अंत तक पढ़े ताकि आपको इसके बारे में अच्छी जानकारी आपको मिल सके आइए जानते हैं ओपनसॉर्स सॉफ्टवेयर इन हिंदी के बारे में

ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर” क्या है?

ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर एक ऐसा सॉफ्टवेयर है जिसको सोर्स कोड पूरी तरह से viewable व changeable कर देती है। दूसरी तरफ जब यह सोर्स कोड वैल्युएबल और चेंजेबल नहीं होते हैं तो पब्लिक के द्वारा ऐसे सॉफ्टवेयर को क्लोज या proprietary सॉफ्टवेयर कहा जाता है।

यह सभी फ्री वाले सॉफ्टवेयर बड़ी आसानी से केंद्रीय और मॉडिफिकेशन यूजर्स के परफॉर्मेंस के आधार पर किए जा सकते हैं। यूजर्स के पास में फ्रीडम होता है जिससे वह इन को आसानी से मॉडिफाई चेंज और सोर्स कोड को शेयर भी कर देते हैं लेकिन सभी चीजों के लिए एक एग्रीमेंट लाइसेंस की जरूरत होती है जिसके अंतर्गत एक्यूजर या एक particular ऑर्गेनाइजेशन इन में बदलाव कर सकता है।

Open source software licensing

सभी ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर यूजर्स तथा डेवलपर के लिए फ्री उपलब्ध रहते हैं जिनमें एक लाइसेंस विशेष के साथ में बांट दिया जाता है यह लाइसेंस मुख्य रूप से एक ही बात पर यूजर और डेवलपर को पाबंद करते हैं कि सोर्स कोड में किसी भी तरह का बदलाव या सुधार केवल जनता के लिए ही उपलब्ध करवाना पड़ेगा। कुछ पॉपुलर ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर लाइसेंस के नाम निम्न है..

  • MIT license
  • GNU General public license 2.0
  • BSD license 2.0
  • GNU GPL 3.0

ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर के फायदे

ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर का सबसे बड़ा फायदा यह सभी के लिए फ्री में उपलब्ध होते हैं इनकी यही खासियत इनको कमर्शियल सॉफ्टवेयर से बिल्कुल अलग कर देती है इसके अलावा भी और भी बहुत से फायदे होते हैं जिनकी जानकारी निम्न हैं

Free of cost : – ओपन सोर्स प्रोजेक्ट के अंतर्गत सभी सॉफ्टवेयर बिल्कुल फ्री ऑफ कॉस्ट सभी के लिए उपलब्ध होते हैं मगर इनके सोर्स कोड से निर्मित नए प्रोडक्ट इस लाइसेंस के दायरे में नहीं होते हैं और यूजर से इसके लिए चार्ज भी लिया जाता है।

Ease of availability : – यह सॉफ्टवेयर आसानी से उपलब्ध होते हैं यूजर्स और डेवलपर को ज्यादा औपचारिकताएं भी इसके लिए पूरी नहीं करनी पड़ती है।

High quality : – इस प्रोजेक्ट की क्वालिटी कमर्शियल सॉफ्टवेयर से भी अधिक होती है क्योंकि दुनिया में अलग-अलग होने से अलग-अलग जरूरत के लोगों के द्वारा सभी के प्रयासों से इस को विकसित किया गया है इसलिए हर तरह से यूजर्स की जरूरत का ख्याल इस सॉफ्टवेयर के तहत रखा जाता है।

More secure : – ओपन सॉर्स प्रोजेक्ट उच्च गुणवत्ता के बाद भी बहुत सुरक्षित होते हैं क्योंकि हजारों लोग इस में आने वाली समस्याओं को कमियों को तुरंत पकड़ कर सही कर देते हैं।

More control : – ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर के साथ में सोर्स कोड भी उपलब्ध करवाए जाते हैं इसलिए यूजर अपनी जरूरत के हिसाब से इस सॉफ्टवेयर में जरूरी बदलाव कर लेते हैं और इन पर किसी व्यक्ति संस्था का भी किसी तरह का कोई नियंत्रण नहीं होता है इसीलिए यूजर्स के लिए कमर्शियल सॉफ्टवेयर की तुलना में इन में आपको ज्यादा नियंत्रण देखने को मिलेगा।

ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर का जनक

ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर या फ्री सॉफ्टवेयर के जनक richard stallman को माना जाता है ऐसा इसलिए है क्योंकि उन्होंने सबसे पहले सन् 1984 में फ्री सॉफ्टवेयर डेवलप कर दिया था और यह एक ऐसा सॉफ्टवेयर है जो बड़ी आसानी से बदला और मॉडिफिकेशन यूजर्स की परफॉर्मेंस के आधार पर इसमें कर दिया जाता है।

कुछ पॉपुलर ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर

वैसे तो देखा जाए ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर अर्थात फ्री सॉफ्टवेयर आपको इंटरनेट पर बहुत सारे मिल जाएंगे लेकिन कुछ पॉपुलर सॉफ्टवेयर हैं जिनकी जानकारी उनके नाम निम्न हैं

  • Linux – ऑपरेटिंग सिस्टम
  • Mozilla thunderbolt – वेब ब्राउज़र
  • Mozilla Firefox – ईमेल क्लाइंट
  • VLC Media player – मीडिया प्लेयर
  • Libreoffice or openoffice – डॉक्युमेंट एडिटर
  • GIMP – ग्राफिक एडिटर
  • FIlezilla – FTP क्लाइंट
  • Apache – सर्वर
  • PHP – प्रोग्रामिंग भाषा
  • Python – प्रोग्रामिंग भाषा

Conclusion

दोस्तों आज हमने इस लेख के माध्यम से आप सभी के लिए ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर मीनिंग इन हिंदी के बारे में जानकारी प्रदान की है इसके विषय में आपको जो भी जानकारी दी है वह आपको जरूर पसंद आएगी अगर आपको हमारे द्वारा दी गई सभी जानकारियां पसंद आई तो हमारे कमेंट सेक्शन में जाकर कमेंट करके जरूर बताएं

Popular Post

PUBG mobile lite hack download

PUBG mobile lite hack download की पूरी Step-by-Step जानकारी

1
अगर आप इस लेख पर आए है तो हम उम्मीद करते हैं कि आप अब जी के बहुत बड़े फैन होंगे अगर आप चाहते...

Y2Mate YouTube Video Downloader- Download Audio, Video In HD Quality.

0
आज के इस डिजिटल युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स का प्रयोग अधिक प्रचलन में देखा जा रहा हैं, ऐसे में विभिन्न विभिन्न...

My Tools Town- Increase Like & Subscribers.

1
आज के समय मे जिस प्रकार से सोशल मीडिया ऐप्लकैशन पर लाइक व फॉलोवर्स का ट्रेंड बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हैं, उसे...

जन सूचना अधिकार अधिनियम – RTI क्या हैं?

2
किसी भी प्रदेश मे बेहतर साशन व प्रसाशन को बनाए रखने के लिए समान अधिकार प्रदान किए जाते हैं। जिसके चलते कोई भी व्यक्ति...
kalyan chart

kalyan chart – कल्याण चार्ट की पूरी जानकारी

0
क्या आप बिल्कुल कम समय में अमीर बनना चाहते हैं? अगर हां तो आप इस वक्त बिलकुल सही जगह पर है। हम यह नहीं...