Sampling in Hindi इसकी पूरी जानकारी हिंदी में

Digital recording के आने से पहले ऑडियो और वीडियो की रिकॉर्ड किया जाता था एनालॉग मे ऑडियो की पहले रिकॉर्ड किया जाता था डिवाइसेस मे जैसे कि cassette tapes और record, video को record किया जाता था Beta और VHS tapes मे वही media को analog format मे भी edit किया जाता था।

Sampling in Hindi इसकी पूरी जानकारी हिंदी में

वह भी multi channel audio tapes का उपयोग कर म्यूजिक के लिए और फ़िल्म reels वह भी video recordings के लिए इस method मे कई बार rewinding  और fast – Forwarding करना पड़ता था इस वजह से यह एक कॉफी ही वक्त से consuming proses होता था आज के वक्त की बात करें तो डिजिटल रिकॉर्डिंग ने अधिक हद तक एनालॉग रिकॉर्डिंग को रिप्लेस कर दिया हैं।

डिजिटल एडिटिंग को अब अधिक efficiently किया जाने लगा है analog editing की तुलना में और वही मीडिया अब कोई भी क्वालिटी लॉस नहीं करती है इस प्रोसेसर के दौरान वही क्योकि जो भी हम मनुष्य देखते और सुनते हैं वह सभी Analog फॉर्मेट होता है इसलिए ऑडियो और वीडियो को सेव करना एक डिजिटल फॉर्मेट में इसमें आवश्यकता होता है।

की सिग्नल को convert किया जाए analog से digital मे इसी process की ही Sampling कहते हैं Sampling मे involve होते हैं Snapshots होना वह भी एक ऑडियो या वीडियो सिग्नल की बहुत ज्यादा fast intervals मे जो की usually ten of thousands of times per second होती है इसमें डिजिटल सिग्नल की क्वालिटी को निर्धारित किया जाता है अधिकतर Sampling rate से या bit rate उस signal की जिसमे की उसे sampled किया गया हो।

जितनी अधिक Higher bit rate हो ऐसे में उतनी ही अधिक samples भी create होगी पर सेकंड और अधिक realistic  होगा resulting audio या video file भी example – CD – Quality audio की sample किया गया होता है 44.1 kHz या 44,100 samples per second मे इसलिए एक 44.1khz digital recording और original audio signal मे अधिक फर्क नहीं होता है।

अधिकतर लोगों के हिसाब से वहीं यदि ऑडियो को रिकॉर्ड किया जाए 22khz मैं तब अधिकतर लोगों की क्वालिटी में आएं गिरावट का जरूर से पता चल सकता है Samples की create किया जा सकता है Sampling कर live audio और video को या फिर Sampling कर previously recoded analog media को क्योकि samples estime करती है।

analog signal को इसलिए digital representation कभी भी उतनी accurate नही होती है जैसे कि- analog data होती है परन्तु यदि एक high enough Sampling rate का उपयोग किया जाए इन दोनों के अंतर को हमारी इंसानी senses notice नहीं कर सकती है क्योंकि डिजिटल इंफॉर्मेशन को एडिट और सेव किया जा सकता है।

एक कंप्यूटर के उपयोग से और वही यह deteriorate भी नही होगी जैसे कि analog media इसलिए quality/ convenience trade off जो कि इसमें involve होती है Sampling मे वह अवश्य से well worthwhile होती है।

निष्कर्ष = आज की इस पोस्ट में हमने आपको बताया है कि Sampling in Hindi इसकी पूरी जानकारी हिंदी में हमने आपको बताया है यह पोस्ट आपकों पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करें जिससे उन्हें भी Sampling से संबंधित सभी प्रश्नों के उत्तर सरलता से मिल जाए।

Popular Post

PUBG mobile lite hack download

PUBG mobile lite hack download की पूरी Step-by-Step जानकारी

1
अगर आप इस लेख पर आए है तो हम उम्मीद करते हैं कि आप अब जी के बहुत बड़े फैन होंगे अगर आप चाहते...

My Tools Town- Increase Like & Subscribers.

1
आज के समय मे जिस प्रकार से सोशल मीडिया ऐप्लकैशन पर लाइक व फॉलोवर्स का ट्रेंड बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हैं, उसे...

Y2Mate YouTube Video Downloader- Download Audio, Video In HD Quality.

0
आज के इस डिजिटल युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स का प्रयोग अधिक प्रचलन में देखा जा रहा हैं, ऐसे में विभिन्न विभिन्न...

जन सूचना अधिकार अधिनियम – RTI क्या हैं?

2
किसी भी प्रदेश मे बेहतर साशन व प्रसाशन को बनाए रखने के लिए समान अधिकार प्रदान किए जाते हैं। जिसके चलते कोई भी व्यक्ति...

Jio Phone Me Whatsapp Kaise Chalaye?

1
आज के इस आधुनिक युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऐप्लकैशन का प्रचलन बहुत ही तेजी से चल रहा हैं। उसे देखते हुए हर...