सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है?

आज के इस पोस्ट में हम सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है? सॉफ्टवेयर इंजीनियर क्या है इससे संबंधित सभी प्रश्नों के उत्तर आपको हमारे आज के इस पोस्ट में मिल जाएगा आज के समय में टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल बहुत ज्यादा बढ़ गया है।

बहुत से स्टूडेंट्स टेक्निकल इंजीनियरिंग में करियर बनाना चाहते हैं इंजीनियरिंग कोर्स बहुत तरह के होते हैं जिसमें से एक होता है सॉफ्टवेयर इंजीनियर जो की आपके करियर के प्रति एक बेहतर विकल्प होता है ज्यादातर आज के वक्त में जो भी चीज़ आप उपयोग कर रहे हैं।

चाहे वह कंप्यूटर हो या फिर मोबाइल फ़ोन जो स्मार्टवॉच या इलेक्ट्रॉनिक्स गैरेज किसी न किसी सॉफ्टवेयर इंजीनियर के काम का ही नतीजा है ऐसे में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की डिमांड बहुत बढ़ते जा रहे हैं और कंपनियों सॉफ्टवेयर इंजीनियरों को बहुत बड़े बड़े पैकेज दे रही है यहाँ हम आपको सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी की दिशा में बताने जा रहे है।

कि सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है इंडिया में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी कितना और अमेरिका में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है अगर आप यह सभी चीजों को विस्तारपूर्वक से जानना चाहते हैं तो हमारे इस पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढ़ें।

Also Read: इंस्टाग्राम किस देश की कंपनी है? Instagram Kis desh ki compay hai?

सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है?

आपकी जानकारी के लिए आपको हम बता दें कि सॉफ्टवेयर इंजीनियर्स बन जाने के बाद आपको 25,000 से लेकर 46,000 तक मिल सकता है परंतु उससे पहले यह जान लें कि सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी उसके कामो पे डिपेंड होता है मतलब की अगर कोई इंसान बड़े कंपनी में काम कर रहा है।

सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है?

तो उससे 50,000 से ज्यादा भी दिया जा सकता है यह आपके काम से निर्भर हो सकता है परंतु खास तौर पर 40,000 तक महीने मिल जाता है अब इसमें भी बहुत तरह की आपको सैलरी दिया जाता है सॉफ्टवेयर इंजीनियर में आप बहुत कुछ कर सकते हैं जिसे भी में हम नीचे थोड़ा विस्तार से जानते हैं।

अगर आपका सपना है सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने हैं तो आप दसवीं के बाद सॉफ्टवेयर इंजीनियर की पढ़ाई शुरू कर सकते हैं पॉलिटेक्निक एक सबसे अच्छी कोर्स कह सकते हैं क्योंकि यह कोर्स पूरे 3 साल का है और इसे करने के बाद आपको इंजीनियर का डिग्री दिया जाता है इसमें आपको सॉफ्टवेयर इंजीनियर की पढ़ाई कराई जाती है।

 अगर सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी की बात की जाए तो बहुत कुछ देखा जाता है जैसे कि आप कौन से कॉलेज से इंजीनियर भी हैं क्योंकि कंपनियां यह भी देखती है कि आप किस कॉलेज से इंजीनियर भी है अगर ऐसा इसलिए क्योंकि वह जानते है की अगर आप किसी बड़े कॉलेज से डिग्री लिए होंगे तो आपके पास बेहतर नॉलेज होगा उसके हिसाब से ही सैलरी सेट दिया जाता है।

परंतु अब ऐसा नहीं है कि आप किसी छोटे कॉलेज से डिग्री लिए हो तो आपको सैलरी कम दी जाएगी ऐसा बिल्कुल भी नहीं है क्योंकि आपका नॉलेज भी देखा जाता है। आपका नॉलेज उस फील्ड में अच्छा होगा तो आपको अच्छी सैलरी दी जाएगी यह सब कंपनी पर निर्भर करती है कि आपको किस तरह का पैकेज दिया जाएगा बहुत से ऐसे लोग भी होते है जो सॉफ्टवेयर इंजीनियर्स का कोर्स करके लाखों करोड़ों रुपये कमा रहे हैं सिर्फ आपका अनुभव बेहतर होना बहुत ही महत्वपूर्ण होता है।

अमेरिका में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी

जैसा कि आपको यह पता होगा कि बड़े बड़े सॉफ्टवेयर कंपनियां अमेरिका में ही होते है तो अमेरिका में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी भी बहुत ज्यादा होनी चाहिए उसी तरह आपको बता दें कि इंडिया से बहुत ज्यादा पैसा अमेरिका देती है सॉफ्टवेयर इंजीनियर्स की क्योंकि मुख्य वजह है।

अमेरिका में बड़ी बड़ी कंपनियों का मुख्यालय है जिससे अमेरिका में इम्प्लॉइज को बहुत ज्यादा डिमांड होती हैऔर ज्यादा काम भी होता है इंडिया से करीब 13 गुना ज्यादा सैलरी अमेरिका में देती है सॉफ्टवेयर इंजीनियर को और बहुत ही अच्छी पोस्ट पर जॉब भी दिया जाता है इंडिया में बहुत सारे ऐसे भी स्टूडेंट होते है जो सॉफ्टवेयर इंजीनियर की पढ़ाई करके अमेरिका जाना चाहते हैं सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग की पढ़ाई करके अमेरिका जाना चाहते हैं सॉफ्टवेयर कंपनी नी मैं काम करने के लिये क्योंकि भारत से कई गुना ज्यादा अच्छा सैलरी अमेरिका में दिया जाता है ये अब आप अच्छे से जान गए होंगे।

Also Read: TRP kya hai – कैसे आप जाने की कौन स चैनल ज्यादा देखा जाता है?

भारत में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी

यदि भारत में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की बात की जाए तो लोगों को लगता है कि सॉफ्टवेयर इंजीनियर भारत में बहुत ज्यादा पैसे कमाते हैं परंतु ऐसा नहीं है ज्यादातर सॉफ्टवेयर इंजीनियर बहुत ज्यादा पैसे नहीं कमाते हैं भारत में काम करने वाले आधा से ज्यादा सॉफ्टवेयर इंजीनियर चलाना ₹7,00,000 से कम कमाते हैं.

साधारण कॉलेज से पास हुए इंजीनियर्स सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनते हैं जो आम तौर पर इंजीनियर की महीने की सैलरी 30,000 से 45,000 तक की होती है यदि बात शुरुआती दौर की करें तो कंपनी पर डिपेंड करता है कि कंपनी कैसी है कितनी प्रसिद्ध है या फिर कौनसी कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर है और कंपनी के साथ डिपेंड करता है कि सैलरी कैसी और कितनी सैलरी मिलेंगी पर सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी स्टार्ट 25,000 से हो सकती है और किसी की सैलरी लाख तक भी जाती है.

सॉफ्टवेयर कंपनीज और आईटी सेक्टर में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की बहुत डिमांड रहती है एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर 70 से ₹80,00,000 प्रतिवर्ष तक कमा सकता है एक रिपोर्ट के अनुसार गूगल कंपनी के काम करने वाले सॉफ्टवेयर इंजीनियर की औसत सैलरी करीब 1.2 करोड़ प्रतिवर्ष दिल्ली और बेंगलुरु जैसे शहरों में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की औसत सैलरी है 45 हर महीने की होती है।

निष्कर्ष = आज के इस पोस्ट में हमने आपको बताया है कि सॉफ्टवेयर इंजीनियर्स की सैलरी कितनी होती है तथा अमेरिका में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है? और इंडिया में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है उम्मीद है यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर भी करें।

Popular Post

PUBG mobile lite hack download

PUBG mobile lite hack download की पूरी Step-by-Step जानकारी

1
अगर आप इस लेख पर आए है तो हम उम्मीद करते हैं कि आप अब जी के बहुत बड़े फैन होंगे अगर आप चाहते...

Y2Mate YouTube Video Downloader- Download Audio, Video In HD Quality.

0
Y2Mate YouTube Video Downloader: आज के इस डिजिटल युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स का प्रयोग अधिक प्रचलन में देखा जा रहा हैं,...

My Tools Town- Increase Like & Subscribers.

1
आज के समय मे जिस प्रकार से सोशल मीडिया ऐप्लकैशन पर लाइक व फॉलोवर्स का ट्रेंड बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हैं, उसे...

जन सूचना अधिकार अधिनियम – RTI क्या हैं?

2
किसी भी प्रदेश मे बेहतर साशन व प्रसाशन को बनाए रखने के लिए समान अधिकार प्रदान किए जाते हैं। जिसके चलते कोई भी व्यक्ति...
kalyan chart

kalyan chart – कल्याण चार्ट की पूरी जानकारी

0
क्या आप बिल्कुल कम समय में अमीर बनना चाहते हैं? अगर हां तो आप इस वक्त बिलकुल सही जगह पर है। हम यह नहीं...