Speaker meaning in hindi स्पीकर इन हिंदी

आज आप जानेंगे कि स्पीकर क्या होता है what is speaker in hindi, स्पीकर किस तरह से काम करते हैं, कंप्यूटर स्पीकर की क्यों जरूरत होती है, स्पीकर के प्रकार और type of  speaker in hindi के विषय में आपको इसलिए के द्वारा जानकारी देने जा रहे हैं, ताकि आपको स्पीकर के विषय में सभी जानकारी अच्छे से प्राप्त होता है आइए जानते है…

कंप्यूटर स्पीकर एक कंप्यूटर हार्डवेयर आउटपुट डिवाइस का बना हुआ होता है। जो कि कंप्यूटर से जोड़ दिया जाता है। तब एनालॉग ऑडियो सिगनल को ऑडिबल साउंड में बदल दिया जाता है। उसके बाद आपको सुनाई देगा। आप सभी ने अपने आसपास में किसी ना किसी तरह के स्पीकर को तो जरूर देखा ही होगा। चाहे वह अपने कंप्यूटर में लगे हो या फिर रेलवे स्टेशन को दीवारों पर लगे हो। या फिर मूवी हॉल में लगे हो या थिएटर में लगे हुए हैं। 

लेकिन बहुत कम लोग हैं जिनको असल में मालूम है कि speaker क्या होते हैं, स्पीकर कितने प्रकार के होते हैं और यह स्पीकर कैसे काम करते हैं।

तो हमने सोचा कि क्यों ना आप सभी को इन सभी सवालों के जवाब इस पोस्ट में दे दिए जाए, इसीलिए आज हम आपको स्पीकर क्या होते हैं, speaker meaning in hindi, स्पीकर के प्रकार, स्पीकर कैसे काम करते हैं, इन सभी का विवरण इस लेख के माध्यम से आप सभी को बताने जा रहे हैं, इसलिए आज तक इस लेख को जरूर पढ़े, ताकि आपको सही जानकारी मिल सके..

स्पीकर क्या होता है?

स्पीकर कंप्यूटर हार्डवेयर हार्डवेयर का एक आउटपुट डिवाइस होता है। जिस को कंप्यूटर से कनेक्ट करके ध्वनि सुनने के लिए उसको प्रयोग में लेते हैं। कुछ विशेष प्रकार के स्पीकर कंप्यूटर से कनेक्ट करने के लिए ही इनको बनाया गया है। जबकि अन्य प्रकार के स्पीकर को तो किसी भी डिवाइस से जोड़ सकते हैं। 

कंप्यूटर स्पीकर से निकलने वाली ध्वनि के सभी सिग्नल कंप्यूटर के “साउंड कार्ड” के द्वारा ही बनाए गए हैं।

 सन 1981 में IBM में अपना पहला इंटरनेट कंप्यूटर बनाया था। जिसकी साउंड की क्वालिटी बहुत ज्यादा अच्छी नहीं थी। ज्यादातर पहले की मॉनिटर में स्पीकर नीचे की तरफ दाएं और बॉय शर्ट लगा दिए जाते थे। फिर वो नजर के सामने लगा दिए थे। लेकिन आजकल के मॉनिटर में सभी स्पीकर को दाएं और और बाएं और दोनों साइड लगा दिया जाता है।

स्पीकर काम कैसे करते हैं

स्पीकर इलेक्ट्रोमैग्नेटिक तरंगों से ध्वनि तरंगों में बदल जाते हैं कंप्यूटर या ऑडियो रिसीवर के द्वारा यह इनपुट भी प्राप्त करता है। इनपुट दो प्रकार का होता है एनालॉग या डिजिटल इनपुट।

एनालॉग स्पीकर आसानी से एनालॉग इलेक्ट्रॉनिक्स मैटिक तरंगों को ध्वनि तरंगों में आसानी से बदल देता है, लेकिन डिजिटल स्पीकर डिजिटल सिग्नल को एनालॉग सिग्नल में बदलता है फिर एनालॉग ध्वनि तरंगें जब निकलती हैं फ्रीक्वेंसी के द्वारा स्पीकर से निकलने वाली ध्वनि के उतार-चढ़ाव को भी नाप  लिया जाता है

External speakers की आवश्यकता

आजकल लैपटॉप स्मार्टफोन और अन्य सभी तरह के डिवाइस में आपने स्पीकर लगे देखे ही होंगे तो आपको एक्सटर्नल स्पीकर की आवश्यकता नहीं पड़ती है, क्योंकि तेज साउंड इन में पहले से ही होती है, इसीलिए आप इन को प्रयोग में अधिक से अधिक लिए सकते हैं।

 एक्सटर्नल स्पीकर हाई क्वालिटी का साउंड का उत्पादन करता है। जोकि आपके आसपास के वातावरण में तेज आवाज को करता है। स्पीकर को आप कंप्यूटर या अन्य डिवाइस से भी जोड़ सकते हो सन 1991 में एक्सटर्नल स्पीकर का आविष्कार “अबिनावन पुराची दास” के द्वारा किया गया था।

Speakers के प्रकार

स्पीकर निम्न प्रकार के हैं

Sub- woofers

Subwoofers बहुत कम फ्रीक्वेंसी की दूरी वाले स्पीकर हैं। इनकी रेंज 20 से 200 Hz के बीच में होती है। आजकल कुछ लैपटॉप स्पीकर सिस्टम भी sub- woofer के साथ में भी आते हैं इन सब का उपयोग आप cars या होम थिएटर में भी कर सकते हैं।

Studio monitor speskers

स्टूडियो मॉनिटर स्पीकर का एक प्रकार होता है जो कि स्वर में संगीत दोनों को स्पष्ट रूप से पेश करने की क्षमता के लिए ही जाना जाता है। यह म्यूजिक सुनने और खेलने के उपकरणों के लिए ही प्रयोग में लिए जाते हैं।

Loudspeaker 

लाउडस्पीकर एक कान से घरेलू स्पीकर ही होते हैं पुराने समय में रेडियो टेलीविजन और स्टीरियो से धोनी प्राप्त करने का यह एकमात्र तरीका होते थे लाउडस्पीकर पुरानी वीडियो के जीवन का एक मुख्य आधार भी माना जाता है। लाउडस्पीकर में अधिकतर वह पर मिडरेंज स्पीकर और एक ट्विटर भी दिया है जिसमें ध्वनि की पूरी श्रंखला का निर्माण होता है।

 जिसमें अलग-अलग फिक्र खरीदने की जरूरत नहीं होती है ज्यादातर बड़े-बड़े मच प्रदर्शन के लिए इन उपयोग में ले सकते हैं। आजकल लाउडस्पीकर छोटे साइज में भी आपको मार्केट में मिल जाएंगे।

फ्लोर स्टैंडिंग स्पीकर

यह स्पीकर आसानी से आप फर्श पर भी खड़ा करके रख सकते हो। लगभग 4 फिट की लंबाई इन की होती है। जिनको आप कहीं पर भी अपने घर में रख सकते हो। इनको रखने के लिए इससे इसकी जरूरत पड़ती है। फ्लोर स्टैंडिंग स्पीकर लाउडस्पीकर के समान ही mid-range ट्विटर और एक बूफर जैसे होता है। अधिकांश और स्टैंडिंग स्पीकर यूएन पावर वाले होते हैं। जिनको रिसीवर और एंपलीफायर की जरूरत होती है।

Bookshelf स्पीकर

बुक्शेल्फ स्पीकर भी स्पीकर का ही एक प्रकार होता है इस स्पीकर को आप होम थिएटर स्पीकर भी क्या सकते हो यह मध्यम आकार के सीकर की श्रेणी में आता है। टेलीविजन के दोनों तरफ क्या फिर कमरे के चारों तरफ इस को आप लगा सकते हो।

 इन स्पीकर की लंबाई 5 इंच की होती है दो स्पीकर इसमें होते हैं और 1 मीटर रेंज वह ट्विटर इसमें लगा होता है फ्लोर स्टैंडिंग स्पीकर के समान इनमें भी एंपलीफायर और रिसीवर की जरूरत पड़ती है।

सेंट्रल चैनल स्पीकर

सेंटर चैनल स्पीकर स्टूडियो मॉनिटर के सामान की क्वालिटी पाई जाती है इस तरह के स्पीकर को टेलीविजन के ऊपर या उस के सामने रख सकते हो।

Conclusion

आज हमने इस लेख में आप सभी को “स्पीकर क्या होते हैं speaker meaning in hindi” इसके विषय में जानकारी प्रदान की है। आप सभी को स्पीकर के बारे में तो जानकारी होगी। लेकिन पूरी डिटेल हमने इस लेख में आप सभी के लिए बताइए हमें उम्मीद है कि जो भी इंफॉर्मेशन आपको इस लेख में दी है, वह आपको जरूर पसंद आएगी। अगर आप इसी तरह की जानकारियों से जुड़ना चाहते हैं तो हमारी वेबसाइट पर कंटिन्यू विजिट कर सकते हैं और हमारा लेख पसंद आया तो एक बार कमेंट करके जरूर बताएं।

Popular Post

PUBG mobile lite hack download

PUBG mobile lite hack download की पूरी Step-by-Step जानकारी

1
अगर आप इस लेख पर आए है तो हम उम्मीद करते हैं कि आप अब जी के बहुत बड़े फैन होंगे अगर आप चाहते...

Y2Mate YouTube Video Downloader- Download Audio, Video In HD Quality.

0
आज के इस डिजिटल युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स का प्रयोग अधिक प्रचलन में देखा जा रहा हैं, ऐसे में विभिन्न विभिन्न...

My Tools Town- Increase Like & Subscribers.

1
आज के समय मे जिस प्रकार से सोशल मीडिया ऐप्लकैशन पर लाइक व फॉलोवर्स का ट्रेंड बहुत ही तेजी से बढ़ रहा हैं, उसे...

जन सूचना अधिकार अधिनियम – RTI क्या हैं?

2
किसी भी प्रदेश मे बेहतर साशन व प्रसाशन को बनाए रखने के लिए समान अधिकार प्रदान किए जाते हैं। जिसके चलते कोई भी व्यक्ति...

Jio Phone Me Whatsapp Kaise Chalaye?

1
आज के इस आधुनिक युग मे एक जहाँ सोशल मीडिया ऐप्लकैशन का प्रचलन बहुत ही तेजी से चल रहा हैं। उसे देखते हुए हर...